इस दवाई की दुकान के साइनबोर्ड ने जीता कई लोगों का दिल! तस्वीर सोशल मीडिया पर हो रही ट्रेंड

इस दवाई की दुकान के साइनबोर्ड ने जीता कई लोगों का दिल! तस्वीर सोशल मीडिया पर हो रही ट्रेंड

आमतौर पर आप सभी ने नोटिस किया होगा कि दुकानों पर लगे साइनबोर्ड पर पिता के साथ बेटे का नाम होता है जैसे शर्मा एंड सन्स। लेकिन पंजाब के लुधियाना में एक मेडिकल शॉप के बाहर लगे साइनबोर्ड पर लगे नाम ने सबका ध्यान खींचा है।साइनबोर्ड पर लिखा था 'गुप्ता एंड डॉटर्स' जिसको देख कर काफी लोग हैरान हुए।

नई दिल्ली। इस वक्त सोशल मीडिया पर एक तस्वीर काफी तेजी से वायरल हो रही है। ये तस्वीर है एक दुकान की जिसमें कुछ ऐसा लिखा हुआ है जिसको पढ़कर आप भी शायद हैरान हो जाएंगे। अब आप भी सोच रहे होंगे की आखिर एक मेडिकल शॉप के नाम में ऐसी क्या बात है जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। तो आइये हम आपको बताते है लुधियाना के इस मेडिकल शॉप के नाम की खास बात। आमतौर पर आप सभी ने नोटिस किया होगा कि दुकानों पर लगे साइनबोर्ड पर पिता के साथ बेटे का नाम होता है जैसे शर्मा एंड सन्स। लेकिन पंजाब के लुधियाना में एक मेडिकल शॉप के बाहर लगे साइनबोर्ड पर लगे नाम ने सबका ध्यान खींचा है। साइनबोर्ड पर लिखा था 'गुप्ता एंड डॉटर्स' जिसको देख कर काफी लोग हैरान हुए। पिता ने अपनी बेटियों  के साथ साउनबोर्ड पर अपना नाम  दिया है। पहली बार ऐसा कुछ देखने के बाद लोगों ने इसकी तस्वीर खींच कर सोशल मीडिया पर डालना शुरू कर दिया जो अब काफी वायरल हो रही है। पहली बार किसी कंपनी या शॉप के साइनबोर्ड पर गुप्ता एंड सन्स की जगह 'गुप्ता एंड डॉटर्स लिखा देख लोग काफी हैरान हुए और साथ ही दुकान की काफी सराहना करने लगे। 

इसे भी पढ़ें: हेमंत सोरेन ने दी ईद की बधाई, कहा- घर पर ही नमाज अदा कर खुशहाली के लिए करें दुआ

ये फोटो वहीं के डॉक्टर अमन कश्यप ने खींच कर अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है, और कैप्शन में लिखा है कि जेंडर भेदभाव के बीच दुकानदार के द्वारा इस तरह का कदम उठाना बेहद सराहनीय है। बता दें कि इस वायरल फोटो को अब तक 2 हजार से ज्यादा लाइक्स और 500 से अधिक रीट्वीट मिल चुके हैं। इस फोटो को देख लोग काफी खुश हो रहे है। कई लोग इसे एक नई परंपरा की शुरूआत कह रहे है तो कई लोग इसकी काफी सराहना भी कर रहे है। कई लोग फोटो को रीट्वीट कर दुकान के मालिक को शबाशी भी दे रहे है। एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि इस तरह से पहली बार किसी दुकान के साइनबोर्ड पर बेटियों के नाम को देखना काफी खुशी देता है और ये एक महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम को बढ़ावा देगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।