DMK सांसद टीआर बालू और मारन को HC ने पुलिस गिरफ्तारी से दी फौरी राहत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   10:42
DMK सांसद टीआर बालू और मारन को HC ने पुलिस गिरफ्तारी से दी फौरी राहत

एससी-एसटी समुदाय के खिलाफ कथित अशोभनीय टिप्पणी के लिए उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकियों को खारिज करने के अनुरोध वाली याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए अदालत ने यह निर्देश दिया था। मामला 13 मई को सांसदों द्वारा किए गए संवाददाता सम्मेलन से जुड़ा है।

चेन्नई। मद्रास उच्च न्यायालय ने द्रमुक के सांसद टी आर बालू और दयानिधि मारन को अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (एससी-एसटी) कानून के तहत दर्ज मामले में गिरफ्तारी से दी गयी राहत 10 जून तक बढ़ा दी है। न्यायमूर्ति एम निर्मल कुमार ने 23 मई को पुलिस को निर्देश दिया था कि 29 मई तक बालू और मारन के खिलाफ कोई कठोर कदम नहीं उठाए जाएं। 

इसे भी पढ़ें: नगालैंड में नौ और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि, कुल संख्या 18 हुयी

एससी-एसटी समुदाय के खिलाफ कथित अशोभनीय टिप्पणी के लिए उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकियों को खारिज करने के अनुरोध वाली याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए अदालत ने यह निर्देश दिया था। मामला 13 मई को सांसदों द्वारा किए गए संवाददाता सम्मेलन से जुड़ा है, जहां उन्होंने अनुसूचित जाति समुदाय के खिलाफ कथित तौर पर कुछ अशोभनीय टिप्पणी की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।