महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालयों से कहा, संक्रमण फैलने का खतरा न हो, तभी परीक्षा कराएं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   19:26
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालयों से कहा, संक्रमण फैलने का खतरा न हो, तभी परीक्षा कराएं

एक आधिकारिक बयान में मुख्यमंत्री के हवाले से कहा गया है कि यह स्पष्ट हो रहा है कि जुलाई में परीक्षाएं नहीं हो सकती हैं, लेकिन इस संबंध में अनिश्चितता समाप्त होनी चाहिए और सभी विकल्पों का पता लगाया जाना चाहिए।

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ बात की और कहा कि यह सुनिश्चित करते हुए परीक्षाएं आयोजित की जानी चाहिए कि इससे कोरोना वायरस का प्रसार नहीं होगा। एक आधिकारिक बयान में मुख्यमंत्री के हवाले से कहा गया है कि यह स्पष्ट हो रहा है कि जुलाई में परीक्षाएं नहीं हो सकती हैं, लेकिन इस संबंध में अनिश्चितता समाप्त होनी चाहिए और सभी विकल्पों का पता लगाया जाना चाहिए।

तकनीकी और उच्च शिक्षा मंत्री उदय सामंत, राज्य मंत्री प्रजाक्त तानपुरे, मुख्य सचिव अजय मेहता और वरिष्ठ अधिकारियों ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंस में भाग लिया। ठाकरे ने कहा, ‘‘विश्वविद्यालय की परीक्षाओं में यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि एक भी छात्र कोरोना वायरस से संक्रमित न हो। परीक्षा की सटीक विधि और कार्यक्रम तय कर छात्रों और अभिभावकों की चिंताओं को दूर किया जाना चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।