महाराष्ट्र :डीजल चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, 14 लोग गिरफ्तार

Maharashtra
महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के कन्नड में पुलिस ने डीजल चोरी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है और मामले में 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने इस बारे में बताया।

औरंगाबाद (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के कन्नड में पुलिस ने डीजल चोरी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है और मामले में 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने इस बारे में बताया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि 17 फरवरी को चलाये गये अभियान के दौरान चार ट्रक, डीजल से भरे 40 कंटेनर, नकदी एवं अन्य सामान जब्त किया गया, जिनकी कुल कीमत 98 लाख रुपये है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र में बिगड़ते हालात से पूरे देश के माथे पर क्यों चिंता की लकीरें, बढ़ते कोरोना के मामलों के पीछे क्या है बड़ा कारण?

जिले की पुलिस अधीक्षक (एसपी) मोक्षदा पाटिल ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा, ‘‘जिले में चिकलथाना पुलिस थाना में 16 फरवरी को दर्ज शिकायत के आधार पर यह कार्रवाई की गयी। शिकायत में चितेगांव में एक पेट्रोल पंप से 3,480 लीटर डीजल की चोरी की बात कही गयी है।’’ एसपी ने बताया कि स्थानीय अपराध शाखा को यह सूचना मिली थी कि मामले में महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले से एक गिरोह शामिल है। पाटिल ने बताया, ‘‘गिरोह के सदस्य रात में विभिन्न पेट्रोल पंपों पर रुकते थे और हैंड पंप की मदद से भूमिगत टैंकों से डीजल चुरा लेते थे।

इसे भी पढ़ें: भारतीय-अमेरिकी नीरा टंडन की बढ़ रही है चुनौती, सीनेट में अपनी नियुक्ति को लेकर बढ़ रही परेशानी

निजी इस्तेमाल के लिए रखने के बाद वे शेष डीजल अन्य ट्रक ड्राइवरों को सस्ती दर में बेच देते थे।’’ गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर कन्नड़ के शिवराई इलाके में जांच चौकी बनायी थी। एसपी ने बताया कि गुजरात से आने वाले वाहनों की जांच के दौरान ऐसे तीन ट्रक पकड़े गये और डीजल से भरे 40 कंटेनर जब्त किये गये। ट्रक में मौजूद 12 लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

अधिकारी ने बताया कि कन्नड़ में पकड़े गये ट्रक ड्राइवर ने पुलिस को बताया कि जाल्टा फाटा में पेट्रोल पंप से डीजल खरीदने के लिए ऐसा ही एक अन्य वाहन खड़ा है जिसके बाद उस वाहन को भी जब्त कर लिया गया तथा दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने स्वीकार किया कि उन्होंने चितेगांव में पेट्रोल पंप से डीजल चोरी की थी। आरोपी उस्मानाबाद जिले के रहने वाले हैं और वे पिछले पांच साल से डीजल चोरी की वारदात में शामिल हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़