अहमदाबाद में डायपर फैक्ट्री में लगी भीषण आग, अमित शाह ने NDRF की तैनाती के दिए आदेश

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 24, 2020   18:24
अहमदाबाद में डायपर फैक्ट्री में लगी भीषण आग, अमित शाह ने NDRF की तैनाती के दिए आदेश

अधिकारी ने कहा कि अहमदाबाद अग्निशमन एवं आपातकालीन सेवा (एएफईएस) के कर्मचारी और पास के नगर निकाय के कर्मचारी आग बुझाने के काम में जुटे हुए हैं।

अहमदाबाद। गुजरात के अहमदाबाद शहर के निकट सानंद औद्योगिक क्षेत्र में एक डायपर फैक्ट्री में बुधवार को भीषण आग लग गई। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि आग सुबह करीब साढ़े आठ बजे लगी और आग को बुझाने का प्रयास अब भी जारी है। उन्होंने कहा कि हादसे में अब तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। उन्होंने बताया कि अहमदाबाद अग्निशमन एवं आपातकालीन सेवा (एएफईएस) के कर्मचारी और पास के नगर निकाय के कर्मचारी आग बुझाने के काम में जुटे हुए हैं। इस घटना पर संज्ञान लेते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एनडीआरएफ की तैनाती के आदेश दिये हैं। 

इसे भी पढ़ें: मुम्बई के मानखुर्द के स्क्रैप कपाउंड में लगी भीषण आग, काई हताहत नहीं 

शाह ने ट्वीट कर कहा, “सानंद में एक कारखाने में आग के बारे में पता चला। मैं जिलाधिकारी और अन्य संबंधित अधिकारियों के संपर्क में हूं। दमकल की गाड़ियां मौके पर हैं, मैंने एनडीआरएफ से आग बुझाने में मदद करने को कहा है।” अधिकारियों के मुताबिक आग सेनेटरी उत्पाद निर्माता यूनिचार्म इंडिया प्राइवेड लिमिटेड के स्वामित्व वाले संयंत्र के बड़े हिस्से में फैली है। उन्होंने बताया कि आग पर पूरी तरह काबू पाने में 48 और घंटों का वक्त लग सकता है। दमकल अधिकारी मिथुन मिस्त्री ने कहा, “आग सुबह करीब साढ़े आठ बजे शुरू हुई। आग बुझाने के काम में दमकल की 25 गाड़ियां और 125 कर्मचारी लगे हुए हैं।” 

इसे भी पढ़ें: ग्रेटर नोएडा में यामाहा कंपनी के गोदाम में लगी आग, कोई हताहत नहीं 

उन्होंने कहा कि लपटें अब भी उठ रही हैं और आग पर पूरी तरह काबू पाने में 48 घंटों का वक्त लग सकता है। डायपर बनाने में कपास का इस्तेमाल होता है और इससे आग फैल रही है। अधिकारी ने कहा कि आग से संयंत्र को काफी नुकसान हुआ है लेकिन किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।