अच्छी दोस्ती को और प्रगाढ़ बनाते हुए पीएम मोदी ने जर्मनी की चांसलर मर्केल से की मुलाकात

making-a-better-friendship-stronger-pm-modi-meets-germany-chancellor-merkel
प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कहा है कि चांसलर मर्केल ने चुनावों में हालिया जीत को लेकर मोदी को बधाई दी। पीएमओ ने ट्वीट किया, जर्मनी के साथ मित्रता को और प्रगाढ़ बनाते हुए। चांसलर मर्केल और प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-जर्मनी संबंधों में विविधता लाने और उसे और गहरा बनाने के उपायों पर चर्चा की।

ओसाका। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ बैठक की। इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत-जर्मनी संबंधों को प्रगाढ़ बनाने और कृत्रिम मेधा एवं साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के उपायों पर चर्चा की। दोनों नेताओं ने जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर जापान के इस शहर में बैठक की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, अच्छी दोस्ती को और प्रगाढ़ बनाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओसाका में हो रहे जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर जर्मनी की चांसलर मर्केल से मुलाकात की। कृत्रिम मेधा, ई-परिवहन, साइबर सुरक्षा, रेलवे के आधुनिकीकरण एवं कौशल विकास जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई। 

इसे भी पढ़ें: मोदी-ट्रंप की बैठक में रूस से S-400 मिसाइल खरीद के भारत के फैसले पर नहीं हुई चर्चा

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कहा है कि चांसलर मर्केल ने चुनावों में हालिया जीत को लेकर मोदी को बधाई दी। पीएमओ ने ट्वीट किया, जर्मनी के साथ मित्रता को और प्रगाढ़ बनाते हुए। चांसलर मर्केल और प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-जर्मनी संबंधों में विविधता लाने और उसे और गहरा बनाने के उपायों पर चर्चा की। जर्मनी 28 देशों के यूरोपीय संघ में भारत का सबसे बड़ा व्यापार साझीदार है। वित्त वर्ष 2016-17 में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 18.76 अरब डॉलर का था। इसमें भारत का निर्यात 7.18 अरब डालर तथा जर्मनी से आयात 11.58 अरब डालर का था।

 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़