नोटबंदी, जीएसटी और रक्षा खरीद का होना चाहिए कैग ऑडिट: खड़गे

mallikarjun-kharge-for-cag-audit-of-demo-gst-defence-purchases
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को कहा कि नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) को नोटबंदी, जीएसटी और रक्षा खरीद जैसे फैसलों के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराने से नहीं बचना चाहिए।

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बुधवार को कहा कि नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) को नोटबंदी, जीएसटी और रक्षा खरीद जैसे फैसलों के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराने से नहीं बचना चाहिए। संसद की लोक लेखा समिति (पीएसी) के प्रमुख खड़गे ने सार्वजनिक निजी साझेदारी (पीपीपी) वाली परियोजनाओं की कैग द्वारा ऑडिट की पैरवी करते हुए यह भी कहा कि आईएलएंडएफएस से जुड़े घटनाक्रमों से यह साबित होता है कि छानबीन की कमी के कारण देश की वित्तीय व्यवस्था जोखिम में पड़ सकती है।

‘महालेखाकारों के सम्मेलन’ में खड़गे ने कहा कि कैग को अधिक स्वतंत्रता होनी चाहिए ताकि वह व्यापक उत्तरदायित्व निभाने के अपने कर्तव्य का निर्वहन करना जारी रख सके। दरअसल, राफेल विमान सौदे के मामले को कांग्रेस कैग के पास ले गई है। इसका हवाला देते हुए खड़गे ने कहा कि कैग के ऑडिट के आधार पर जो भी नतीजे आएंगे वो सरकार को जवाबदेह ठहराएंगे। खड़गे ने कहा कि कैग की साल में 100 से अधिक रिपोर्ट आती है लेकिन इनमें से कुछ की ही चर्चा होती है और चर्चा भी उन्हीं की होती है जिनका कुछ राजनीतिक मतलब होता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़