पश्चिम बंगाल में भाजपा के बढ़ते कद को रोकने के लिए ममता बनर्जी ने बनाई ये रणनीति

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 26 2019 11:03AM
पश्चिम बंगाल में भाजपा के बढ़ते कद को रोकने के लिए ममता बनर्जी ने बनाई ये रणनीति
Image Source: Google

बनर्जी ने सभी उम्मीदवारों और वरिष्ठ नेताओं के साथ करीब घंटे भर चली बैठक के बाद कहा, हमने पार्टी संगठन में कई बदलाव किए हैं। अच्छी टक्कर देने के बावजूद हारने वाले उम्मीदवारों को अतिरिक्त जिम्मेदारियां दी गयी हैं।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के अच्छे प्रदर्शन के बाद तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को पार्टी के संगठन में फेरबदल किए। इसके साथ ही बनर्जी ने पार्टी में नंबर दो माने जाने वाले अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी से कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां वापस ले ली है।

इसे भी पढ़ें: 2020 के विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस को टक्कर देगी AAP

ममता ने अभिषेक से उन सारे जिलों की कमान वापस ले ली है, जहां भाजपा ने जीत दर्ज की है। पार्टी अध्यक्ष ने अन्य नेताओं को यह जिम्मेदारी दे दी है। बनर्जी ने सभी उम्मीदवारों और वरिष्ठ नेताओं के साथ करीब घंटे भर चली बैठक के बाद कहा, हमने पार्टी संगठन में कई बदलाव किए हैं। अच्छी टक्कर देने के बावजूद हारने वाले उम्मीदवारों को अतिरिक्त जिम्मेदारियां दी गयी हैं।

इसे भी पढ़ें: भाजपा की जीत और कांग्रेस की बढ़त से AAP का क्या होगा?

इससे पहले शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ममता बनर्जी ने कहा था, 'मैं सीएम के पद पर रहकर लगातार काम नहीं करना चाहती थी और मैंने इस बारे में तृणमूल कांग्रेस को बताया था।' उन्होंने कहा, 'मैंने अपनी पार्टी को बताया था, 6 महीने से मैं काम करने की हालत में नहीं थी। मैं एक बिना शक्ति की सीएम थी। मैं इसे स्वीकार नहीं कर सकती। मैं सीएम के रूप में आगे नहीं बढ़ना चाहती। यह कुर्सी मेरे लिए कुछ नहीं है. पार्टी का चिन्ह मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है।'

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video