प्रवासियों और गैर-प्रवासियों के बीच विभाजन की कोशिश कर रही हैं ममता: अधीर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   21:42
प्रवासियों और गैर-प्रवासियों के बीच विभाजन की कोशिश कर रही हैं ममता: अधीर

मुर्शिदाबाद जिले की अपनी बहरामपुर लोकसभा सीट में प्रेसवार्ता के दौरान चौधरी ने कहा, लेकिन, उन्होंने ऐसी कोई पहल नहीं की। इसके इतर, वापस आए लोगों पर कोविड-19 के प्रसार का पूरा ठीकरा फोड़कर प्रवासियों और गैर-प्रवासियों के बीच विभाजन कर रही हैं।

कोलकाता।  प्रवासी मजदूरों की वापसी के मुद्दे को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया कि बनर्जी राज्य में प्रवासियों और गैर-प्रवासियों के बीच विभाजन पैदा करने की कोशिश कर रही थीं। लोकसभा में कांग्रेस के नेता चौधरी ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि को लेकर बनर्जी गलत तरीके से प्रवासी मजदूरों को जिम्मेदार ठहरा रही थीं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को दूसरे राज्यों से समन्वय स्थापित कर वहां फंसे राज्य के मजदूरों की चिकित्सीय जांच का प्रबंध करने के साथ ही उनकी सुरक्षित वापसी का इंतजाम करना चाहिए था, क्या बनर्जी सतर्क थीं? 

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल को लोग ‘शून्य’ के रूप में याद करेंगे: तृणमूल कांग्रेस

मुर्शिदाबाद जिले की अपनी बहरामपुर लोकसभा सीट में प्रेसवार्ता के दौरान चौधरी ने कहा, लेकिन, उन्होंने ऐसी कोई पहल नहीं की। इसके इतर, वापस आए लोगों पर कोविड-19 के प्रसार का पूरा ठीकरा फोड़कर प्रवासियों और गैर-प्रवासियों के बीच विभाजन कर रही हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि शुरुआत में ममता बनर्जी ने प्रवासी मजदूरों को रेल से वापस लाने का पूरा श्रेय लिया और बाद में हालात को काबू करने में विफल रहने पर इसका ठीकरा वापस आए लोगों पर फोड़ दिया। चौधरी ने राज्य सरकार पर लॉकडाउन के दौरान पर्याप्त संख्या में पृथक-वास केंद्र बनाने में नाकाम रहने का भी आरोप लगाया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...