गुजरात के स्कूल देखने जाएंगे मनीष सिसोदिया, बोले- इस बार केजरीवाल को मौका देगी वहां की जनता

manish sisodia
अंकित सिंह । Apr 08, 2022 3:32PM
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बड़ा बयान दिया है। मनीष सिसोदिया ने साफ तौर पर कहा कि इस बार गुजरात के लोग आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को मौका देंगे। अपने बयान में सिसोदिया ने कहा कि मैं सोमवार को गुजरात के स्कूल देखने जाऊंगा।

पंजाब में शानदार जीत के बाद आम आदमी पार्टी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। पार्टी की ओर से गुजरात और हिमाचल प्रदेश में लगातार संगठन को मजबूत किया जा रहा है। इन सब के बीच आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बड़ा बयान दिया है। मनीष सिसोदिया ने साफ तौर पर कहा कि इस बार गुजरात के लोग आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को मौका देंगे। अपने बयान में सिसोदिया ने कहा कि मैं सोमवार को गुजरात के स्कूल देखने जाऊंगा।

सिसोदिया ने आगे कहा कि मैं उनसे पूछना चाहता हूं की अगर आप शिक्षा व्यवस्था अच्छी नहीं करेंगे तो देश कैसे चलेगा? मैं सोमवार को गुजरात के स्कूल देखने जाऊंगा। गुजरात के लोग मन बना चुके हैं कि वो अरविंद केजरीवाल को मौका देंगे, आम आदमी पार्टी को मौका देंगे। उन्होंने कहा कि गुजरात के शिक्षा मंत्री ने बयान दिया कि जिन्हें गुजरात की शिक्षा व्यवस्था अच्छी नहीं लगती वह दिल्ली चले जाएं। उनके इस बयान में अहंकार और स्वीकृति है कि उन्होंने इस दिशा में कुछ नहीं किया। 

इसे भी पढ़ें: Corruption खत्म करने के AAP के दावे पर भाजपा हुई हमलावर, कहा- भ्रष्टाचार के तालाब में गोते लगा रही केजरीवाल सरकार

आपको बता दे कि पंजाब में मिली जीत से उत्साहित आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गुजरात का दौरा भी कर चुके हैं। उनके साथ पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी मौजूद थे। अरविंद केजरीवाल और पंजाब के उनके समकक्ष भगवंत मान ने गुजरात के लोगों से आम आदमी पार्टी (आप) को राज्य पर शासन करने के लिए एक मौका देने की अपील की थी। केजरीवाल ने तिरंगा गौरव यात्रा नामक रोडशो किया और कहा कि भाजपा 25 साल से राज्य में सत्ता में होने के कारण अहंकार में डूबी हुई है और जनता को उनकी पार्टी को एक मौका देना चाहिये।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़