स्वास्थ्य मंत्री मंडाविया ने किया हमदाबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का जायजा, अधिकारियों से भी की बात

Mansukh Mandaviya takes stock of RT-PCR screening centre at Ahmedabad airport
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने अहमदाबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आरटी-पीसीआर जांच केंद्र का जायजा लिया।हवाई अड्डे के अधिकारियों के अनुसार, प्रतीक्षा क्षेत्र में 220 यात्रियों के रूकने, 17 पंजीकरण काउंटर, 120 आरटी-पीसीआर मशीन सहित नमूने लेने के लिए आठ बूथ की सुविधा शुरू की गई है।

अहमदाबाद। कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने गुजरात के अहमदाबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आरटी-पीसीआर जांच केंद्र का जायजा लिया और यात्रियों और अधिकारियों से बातचीत की। भारत ने ‘जोखिम’ वाले देशों से हवाई अड्डों पर आने वाले यात्रियों के लिए जांच सहित अतिरिक्त उपाय अनिवार्य कर दिए हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर यात्रियों के लिए विभिन्न सुविधाएं भी शुरू की गई हैं।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र में अब तक 10 मंत्री और 20 से ज्यादा विधायकों को हुआ कोरोना, अजित पवार ने दिए सख्त पाबंदियां लगाने के संकेत

हवाई अड्डे के अधिकारियों के अनुसार, प्रतीक्षा क्षेत्र में 220 यात्रियों के रूकने, 17 पंजीकरण काउंटर, 120 आरटी-पीसीआर मशीन सहित नमूने लेने के लिए आठ बूथ की सुविधा शुरू की गई है। ट्विटर पर साझा किए गए एक वीडियो क्लिप में मांडविया प्रतीक्षारत यात्रियों और हवाई अड्डे के अधिकारियों के साथ बातचीत करते नजर आए। केंद्रीय मंत्री ने शुक्रवार रात ट्वीट किया, ‘‘गुजरात प्रवास के दौरान मैंने अहमदाबाद के सरदार वल्लभ भाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आरटी-पीसीआर जांच केंद्र का जायजा लिया व यात्रियों से बातचीत की। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, ‘जोखिम वाले’ देशों में ब्रिटेन के साथ यूरोप के देश और दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, जिम्बाब्वे, तंजानिया, हांगकांग, चीन, घाना, मॉरीशस, न्यूजीलैंड और इजराइल शामिल हैं। गुजरात में शुक्रवार तक ओमीक्रोन के मामलों की संख्या 113 थी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़