Delhi Heat Wave | दिल्ली में 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है अधिकतम तापमान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 13, 2022   11:16
Delhi Heat Wave | दिल्ली में 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है अधिकतम तापमान
ani

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को लू का नया दौर शुरू हो सकता है और अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी है। शहर में न्यूनतम तापमान 28.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को लू का नया दौर शुरू हो सकता है और अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी है। शहर में न्यूनतम तापमान 28.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है। मौसम कार्यालय ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता का स्तर 62 प्रतिशत दर्ज किया गया। सफर-इंडिया वायु गुणवत्ता सेवा के आंकड़ों के अनुसार, शहर में वायु गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में दर्ज की गयी।

इसे भी पढ़ें: बढ़ते के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स 635 अंक से अधिक चढ़ा; निफ्टी भी ऊपर

सुबह नौ बजकर 47 मिनट पर एक्यूआई 158 दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ तथा 401 और 500 के बीच एक्यूआई को ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। आईएमडी ने शुक्रवार और शनिवार को राजधानी के ज्यादातर हिस्सों में लू चलने की चेतावनी के साथ येलो अलर्ट जारी किया है। लोगों को रविवार को भीषण लू से सतर्क करने के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi Newsroom। 3 दिवसीय चिंतन शिविर में 6 मुद्दों पर होगा मंथन, क्या उदयपुर में होगा कांग्रेस का उदय ?

आईएमडी मौसम की चेतावनी के लिए चार कलर कोड का इस्तेमाल करता है। ये चार कलर कोडग्रीन (कोई कार्रवाई की आवश्यकता नहीं), येलो (नजर रखो और अद्यतन रहो), ऑरेंज (तैयार रहो) और रेड (कार्रवाई करो) अलर्ट हैं। मौसम विशेषज्ञों ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला ने रविवार को अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान जताया है। कुछ स्थानों पर पारा 46-47 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंच सकता है। दिल्ली में गत रविवार से लू चलने की आशंका थी लेकिन चक्रवात असानी के असर के कारण राष्ट्रीय राजधानी में पूर्वी हवाओं के चलने से ऐसा नहीं हुआ। गत सप्ताह कुछ जगहों पर बूंदाबांदी, गरज के साथ छीटें पड़ने और तेज हवाओं के कारण भीषण गर्मी से थोड़ी राहत मिली थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।