मायावती का आरोप, दलित विरोधी हैं कांग्रेस और भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2018   16:30
मायावती का आरोप, दलित विरोधी हैं कांग्रेस और भाजपा

उन्होंने कहा, ‘‘बाबा साहेब आंबेडकर के अथक प्रयासों से देश में सरकारी नौकरियों में आरक्षण की सुविधा मिली। इन वर्गों के प्रति हीन मानसिकता वाली पार्टिंया इसे खत्म करने की राह पर हैं।’

जयपुर। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने सोमवार को कहा कि भाजपा व कांग्रेस दोनों ही दलित विरोधी हैं और वे आरक्षण प्रणाली को खत्म करने की फिराक में हैं। जयपुर के आमेर विधानसभा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के प्रयासों से आरक्षण लागू हुआ लेकिन अब ये दोनों पार्टिंया भाजपा व कांग्रेस इसके खिलाफ जा रही हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘बाबा साहेब आंबेडकर के अथक प्रयासों से देश में सरकारी नौकरियों में आरक्षण की सुविधा मिली। इन वर्गों के प्रति हीन मानसिकता वाली पार्टिंया इसे खत्म करने की राह पर हैं।’’मायावती ने कहा कि बसपा ने राजस्थान में अपने टिकटों का बंटवारा सर्वसमाज के अनुपात में किया है। देश में आजादी के बाद केंद्र व राज्यों में विभिन्न पार्टियों की सरकारें रहीं लेकिन दलित, आदिवासी, पिछड़े, मुस्लिम व धार्मिक अल्पसंख्यकों व किसानों का खास उद्धार नहीं हो सका।

मायावती ने इससे पहले सूरजगढ़ झुंझुनू में भी एक चुनावी सभा को संबोधित किया। आमेर से पार्टी के प्रत्याशी नवीन पिलानिया हैं। मौजूदा विधायक पिलानिया ने 2013 का चुनाव एनपीपी के टिकट पर लड़ा लेकिन हाल ही में वह बसपा में आ गए। भाजपा ने इस सीट पर सतीश पूनिया को उतारा है जो 2013 का चुनाव केवल 329 मतों से हारे थे। कांग्रेस के प्रशांत शर्मा सहित कुल 20 प्रत्याशी इस सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।