मेरठ : ताकाझांकी का विरोध करने पर दो पक्षों में हुआ खुनी संघर्ष, युवक की मौत

मेरठ : ताकाझांकी का विरोध करने पर दो पक्षों में हुआ खुनी संघर्ष, युवक की मौत

ताकाझांकी को लेकर मवाना क्षेत्र के गांव भैंसा में दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। । दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गए। जिसके बाद लाठी डंडे चले। आरोपी पक्ष ने तमंचे व पिस्टल से फायरिंग की। ताबड़तोड़ चलीं गोलियों से एक युवक की हत्या कर दी गई

मेरठ में बुधवार रात ताकाझांकी को लेकर मवाना क्षेत्र के गांव भैंसा में दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। । दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गए। जिसके बाद लाठी डंडे चले। आरोपी पक्ष ने तमंचे व पिस्टल से फायरिंग की। ताबड़तोड़ चलीं गोलियों से एक युवक की हत्या कर दी गई जबकि दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गांव पहुंचे एसपी देहात ने कई थानों की फोर्स को तैनात कर स्थिति को काबू में किया।

गांव भैंसा निवासी अंकुर उर्फ शेरू का पड़ोसी अरुण से घर में ताकझांक को लेकर विवाद चल रहा था। छह माह पहले भी दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ था। गांव के जिम्मेदार लोगों के समझाने पर मामला शांत हो गया था। करीब एक माह पहले दोनों परिवारों में विवाद बढ़ा और मारपीट हो गई। आरोप है कि बुधवार को अरुण शाम के समय अपनी छत पर था और अंकुर के घर के अंदर झांक रहा था। इसे लेकर अंकुर और अरुण के बीच कहासुनी हो गई। शोर शराबा होने पर परिवार के लोग छत पर आ गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों में पथराव हो गया। आरोप है कि इस बीच अरुण के भाई सचिन ने लाइसेंसी पिस्टल से गोलियां चला दीं।  जिसके बाद आरोपित भाई पथराव व फायरिंग करते हुए फरार हो गये। अंकुर के कंधे और उसके चाचा के पुत्र गौरव के सीने में गोली लगी।दोनों घायलों को लेकर परिजन मेरठ स्थित अस्पताल पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने गौरव को मृत घोषित कर दिया। गौरव की मौत की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया। फायरिंग में एक की मौत व दूसरे के घायल होने से गांव में तनाव पैदा हो गया। गांव रिजर्व पुलिस तैनात कर दी है। मृतक शादीशुदा था तथा उसके दो बच्चों में एक लड़का और एक लड़की है। स्वजन का रो-रोकर बुराहाल है।

मोके पर  पहुंचे केशव कुमार, एसपी देहात के अनुसार ,गौरव नाम के व्यक्ति की मौत हुई है और अंकुर घायल है। अंकुर की पत्नी से बात की तो खुलासा हुआ कि ढाई माह पूर्व आंगन में झांकने को लेकर मामूली विवाद हुआ था, तभी से दोनों परिवारों में तनाव चल रहा था। आरोपित फौज में सैनिक था और एक वर्ष पूर्व उसने रिटायरमेंट लिया था। आरोपी द्वारा लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारी गई है। तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।