मेरठ : नाले में गिरकर युवक की मौत,2 घंटे बाद निकाला गया शव

मेरठ : नाले में गिरकर युवक की मौत,2 घंटे बाद निकाला गया शव

ब्रह्मपुरी पुलिस के अनुसरार, ओडियन नाले की पुलिया पर चांद बैठा हुुआ था। इसी दौरान चांद नाले में गिर गया। आसपास के लोगों ने शोर मचाया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर नगर निगम टीम को जानकारी दी। जेसीबी से दो घंटे तक तलाश करते रहे,

मेरठ। श्यामनगर निवासी चांद (32) पुत्र अकबर की ब्रह्मपुरी में ओडियन सिनेमा हाल के बाहर नाले में गिरकर मौत हो गई है। आसपास के लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी की। जेसीबी से तलाश कराई गई, दो घंटे बाद शव बरामद होने पर स्थानीय लोगों ने हंगामा किया। आसपास के निवासियों ने इसे नगर निगम की लापरवाही से हादसा बताते हुए आक्रोश जताया। बाद में पुलिस ने किसी तरह लोगों को समझाकर शांत कराया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

लिसाड़ीगेट थाना क्षेत्र के श्यामनगर निवासी मोहम्मद चांद (34) पुत्र अनवर पुराने मकान तोड़ने का ठेका लेता था। शुक्रवार रात दस बजे युवक अपने साथी फईम के साथ ओडियन नाले के रास्ते अपने घर जा रहा था। ब्रहमपुरी थाने के पास चांद ओडियन नाले में गिर गया। इसके बाद साथी फईम ने पुलिस को सूचना दी। मोके पर पहुंची ब्रह्मपुरी पुलिस के अनुसरार, ओडियन नाले की पुलिया पर जाते हुए चांद नाले में गिर गया। जिसके बाद आसपास के लोगों ने शोर मचा दिया । पुलिस ने मौके पर पहुंच कर नगर निगम टीम को जानकारी दी। जेसीबी से दो घंटे तक गिरे युवक की नाले में तलाश की गयी , लेकिन शव का पता नहीं चल सका था। हालांकि बाद में काफी मशक्कत के बाद शव को पुलिस ने बरामद करते हुए परिजनों को बुलाकर शव की शिनाख्त कराई। पुलिस से परिजनों ने पोस्टमार्टम नहीं कराने की मांग की, लेकिन पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वही हंगामा कर रहे लोगों का कहना था कि ओडियन नाला शहर के बीचों बीच निकल रहा है। यह नाला अब तक कई लोगों की जान ले चूका है। नाले पर न तो रेलिंग है और न ही भीड़भाड़ वाली जगह यह ढका गया है। ब्रह्मपुरी थाने के पास सबसे ज्यादा हादसा हो रह हैं। चांद के साथी ने बताया की रात में जाते समय युवक का पैर फिसल गया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।