सड़क मंत्रालय ने 31 मार्च तक 1,41,190 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण पूरा किया

Ministry of Roads
ANI Twitter.
पीएम गतिशक्ति की 13 अप्रैल को हुई समीक्षा बैठक के दौरान विभिन्न मंत्रालयों की परियोजनाओं की प्रगति पर चर्चा की गई थी। बैठक की अध्यक्षता वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने की थी।

नयी दिल्ली| केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 2024-25 तक दो लाख किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण के निर्धारित लक्ष्य में से इस साल 31 मार्च तक 1,41,190 किलोमीटर का निर्माण पूरा कर लिया है।

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। इसी तरह पेट्रोलियम मंत्रालय ने भी इसी अवधि के लिए तय 34,500 किलोमीटर की गैस पाइपलाइन बिछाने के लक्ष्य में से 20,000 किलोमीटर का काम पूरा कर लिया है।

बिजली मंत्रालय भी मार्च, 2022 के अंत तक 4,54,200 किलोमीटर के पारेषण नेटवर्क बिछाने के अपने लक्ष्य को पार कर चुका है। वहीं दूरसंचार विभाग ने वित्त वर्ष 2024-25 के लिए 50,00,000 किलोमीटर के निर्धारित लक्ष्य में से 31 मार्च, 2022 तक 33,00,997 किमी. का ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) नेटवर्क स्थापित किया है।

पीएम गतिशक्ति की 13 अप्रैल को हुई समीक्षा बैठक के दौरान विभिन्न मंत्रालयों की परियोजनाओं की प्रगति पर चर्चा की गई थी। बैठक की अध्यक्षता वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने की थी।

पीएम गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान (एनएमपी) एक एकीकृत योजना है, जिसमें बेहतर तालमेल के लिए विभिन्न मंत्रालयों/विभागों की सभी मौजूदा और प्रस्तावित विकास पहलों को दर्शाया गया है।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग के लॉजिस्टिक्स खंड में विशेष सचिव ने प्रस्तुतिकरण दिया जिसमें पीएम गतिशक्ति के तहत निर्धारित लक्ष्यों की मंत्रालय-वार प्रगति की समीक्षा की गई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़