मोदी मंत्रिमंडल का जल्द होगा विस्तार, इन 27 चेहरों को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

मोदी मंत्रिमंडल का जल्द होगा विस्तार, इन 27 चेहरों को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला विस्तार जल्द ही होने की संभावना जताई जा रही है। कहा जा रहा है कि सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी समेत 27 नेताओं को शामिल किया जा सकता है।

नयी दिल्ली। मोदी सरकार 2.0 के 2 साल पूरे होने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल करने की तैयारी में हैं। इसके लिए उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक भी की थी। हालांकि मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा पर विराम लग गया था लेकिन जम्मू-कश्मीर के विषय पर सर्वदलीय बैठक के बाद एक बार फिर से मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं गति पकड़ रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: राजनाथ सिंह ने BRO की 63 परियोजनाओं का किया उद्घाटन, बोले- लद्दाख में भी शुरू होगी राजनीतिक प्रक्रिया 

मोदी मंत्रिमंडल में 27 वैकेंसी

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला विस्तार जल्द ही होने की संभावना जताई जा रही है। कहा जा रहा है कि सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी समेत 27 नेताओं को शामिल किया जा सकता है। जिन चेहरों के शपथ लेने की संभावना जताई जा रही है उनमें कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया, कैलाश विजयवर्गीय, भूपेंद्र यादव, सैयद जफर इस्लाम, सर्बानंद सोनोवाल, नारायण राणे, स्वतंत्र देव सिंह, पंकज चौधरी, वरुण गांधी, अनुप्रिया पटेल, अनिल जैन, अश्विनी वैष्णव, बैजयंत पांडा, दिनेश त्रिवेदी, पीपी चौधरी, राहुल कस्वां, सुमेधानंद सरस्वती, आरसीपी सिंह इत्यादि नाम शामिल हैं।

पशुपति पारस को भी मिल सकती है जगह

मोदी मंत्रिमंडल में लोजपा के पशुपति पारस को भी जगह मिल सकती है। बता दें कि पशुपति पारस और चिराग पासवान के बीच में लोजपा नेतृत्व को लेकर खींचतान जारी है। इतना ही नहीं चिराग पासवान ने तो भाजपा से मदद की भी गुहार लगाई थी। लेकिन कहा जा रहा है कि पशुपति पारस को केंद्रीय मंत्री का दर्जा मिल सकता है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले मोदी मंत्रिमंडल में प्रदेश के नेताओं को खुश करने की कवायद शुरू हो चुकी है। कहा जा रहा है कि प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को मोदी टीम में शामिल किया जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें: किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे, राहुल गांधी बोले- हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ 

6 महीने में हुआ था मंत्रिमंडल विस्तार

पहली बार केंद्र की सत्ता में आने के छह महीने बाद ही नरेंद्र मोदी ने मंत्रिमंडिल का विस्तार कर दिया था। जिनमें मंत्रियों की संख्या 45 से बढ़कर 66 हो गई थी। लेकिन दूसरे कार्यकाल में 2 साल पूरे होने के बावजूद अभी तक मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो पाया है। वर्तमान में मोदी सरकार की टीम में 53 मंत्री ही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।