बालाकोट हमले का व्यक्तिगत श्रेय लेने की कोशिश कर रहे हैं मोदी: अमरिंदर

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 6 2019 8:25PM
बालाकोट हमले का व्यक्तिगत श्रेय लेने की कोशिश कर रहे हैं मोदी: अमरिंदर
Image Source: Google

गांधी ने इस जीत को वीर सेनानियों को समर्पित किया जो अब मोदी को करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि सीमा पार होने वाले हमलों के लिए भाजपा के गढ़े अन्य शब्दों की तरह ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ भी एक शब्दजाल है, एक जुमला है।

खटकड़ कलां, (पंजाब)। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सशस्त्र बलों की कार्रवाई के लिये व्यक्तिगत श्रेय लेने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सीमा पार होने वाली कार्रवाई के लिए ‘सर्जिकल स्ट्राइक’नया शब्दजाल है। कैप्टन ने कहा, ‘‘बालाकोट में हुए हवाई हमले का मोदी श्रेय लेना चाहते हैं.....प्रधानमंत्री ने कुछ नहीं किया है।’’ मुख्यमंत्री ने पूछा, ‘‘1965, 1971 अथवा करगिल में वह (मोदी) थे।’’ कैप्टन ने रेखांकित करते हुए कहा, ‘‘यह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थी, जिन्होंने पाकिस्तान के ‘टुकड़े’ कर दिये। 1971 की लड़ाई में पाकिस्तान को दो हिस्सों में तोड़ दिया और इसका पूरा श्रेय भारतीय सेना तथा फील्ड मार्शल एस एच एफ जे मानेकशा को दिया।’’



 
गांधी ने इस जीत को वीर सेनानियों को समर्पित किया जो अब मोदी को करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि सीमा पार होने वाले हमलों के लिए भाजपा के गढ़े अन्य शब्दों की तरह ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ भी एक शब्दजाल है, एक जुमला है। उन्होंने दावा किया कि पिछले 70 सालों से सीमा पार हमले हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि मोदी सामान्य तौर पर रक्षा सेवा के साहसिक कृत्य को ‘हड़पने’ का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह भारतीय सेना है और किसी की ‘‘व्यक्तिगत संपत्ति’’ नहीं है।


राज्य के संकटग्रस्त किसानों की समस्याओं के प्रति सहानुभूति दिखाते हुए सिंह नेनिर्धारित समय से एक हफ्ता पहले धान रोपने की अनुमति देने के अपनी सरकार के निर्णय की घोषणा की। आनंदपुर साहिब संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार मनीष तिवारी के पक्ष में रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि किसानों को 13 जून से धान की रोपने की अनुमति दी जाएगी। लोकसभा चुनाव के लिए ‘‘शहीदों की इस धरती’’ से चुनाव प्रचार की शुरूआत करते हुए सिंह ने दोहराया कि उनकी सरकार उन सभी पंजाबियों के लिए एक स्मारक का निर्माण करेगी जिन्हेंने स्वतंत्रता संग्राम में अपने प्राणों की आहूति दी और उनमें से बहुत से लोग ऐसे हैं जो अब भी अज्ञात हैं।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video