मोदी के मंत्री ने कायम की मानवता की मिसाल, प्रोटोकॉल तोड़ बचाई यात्री की जान

मोदी के मंत्री ने कायम की मानवता की मिसाल, प्रोटोकॉल तोड़ बचाई यात्री की जान

केंद्रीय मंत्री भागवत कराड के काम की हर तरफ सराहना हो रही है। पक्ष हो या विपक्ष सभी उनकी तारीफ कर रहे हैं। भाजपा नेता विनय सहस्त्रबुद्धे ने केंद्रीय मंत्री की तारीफ की तो वही सुनील देवधर ने भी उनकी जमकर प्रशंसा की है।

केंद्रीय मंत्री भागवत कराड ने एक उड़ान के दौरान बीमार पड़ गए यात्री की मदद की। दरअसल, इंडिगो के एक विमान में 12 A सीट पर बैठे एक यात्री को बहुत तेजी से तबीयत खराब हो गई और उसे कुछ अन्य समस्याएं भी एक साथ हो गई। इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने अपने मंत्री होने का घमंड छोड़ कर एक डॉक्टर की तरह लगभग आधे घंटे तक उस मरीज के लिए मेहनत किया। मरीज की स्थिति काफी का हद तक काबू में आ गई। प्लेन उतरने पर मरीज को हॉस्पिटल में भर्ती किया गया और सिर्फ 1 दिन बाद मरीज हॉस्पिटल से स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गया। इसके बाद अब केंद्रीय मंत्री की खूब तारीफ हो रही है।

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री कराड के कार्यालय द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि यात्री ने रक्तचाप की समस्या के कारण चक्कर आने की शिकायत की। इसके बाद कराड उस यात्री के पास पहुंच गए और प्राथमिक चिकित्सा की। बयान के अनुसार डॉ कराड ने गिर गए यात्री की मदद की। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उड़ान के दौरान बीमार हुए सहयात्री की मदद करने के लिए केंद्रीय मंत्री भागवत कराड की सराहना की। मोदी ने कहा, सदैव, हृदय से एक चिकित्सक, मेरे सहयोगी द्वारा किया गया शानदार कार्य। कराड ने मंगलवार को एक उड़ान के दौरान बीमार पड़ गए यात्री की मदद की।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी बोले, भारत के लिए लोकतंत्र सिर्फ एक व्यवस्था नहीं बल्कि स्वभाव और सहज प्रकृति है

केंद्रीय मंत्री भागवत कराड के काम की हर तरफ सराहना हो रही है। पक्ष हो या विपक्ष सभी उनकी तारीफ कर रहे हैं। भाजपा नेता विनय सहस्त्रबुद्धे ने केंद्रीय मंत्री की तारीफ की तो वही सुनील देवधर ने भी उनकी जमकर प्रशंसा की है। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी भागवत कराड के इस काम की प्रशंसा की है। इसके साथ ही भूपेंद्र यादव ने भी उनकी तारीफ की है। केंद्रीय विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उनके इस काम के मुरीद हुए तो वहीं शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने भी भागवत कराड की तारीफ की है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...