मोदी ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, बोफोर्स सौदे की दिलाई याद

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 11 2019 8:26AM
मोदी ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, बोफोर्स सौदे की दिलाई याद
Image Source: Google

मोदी ने इस साल जनवरी में गोवा के तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से राहुल गांधी की मुलाकात का भी जिक्र किया। मुलाकात के बाद गांधी ने दावा किया था कि पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर ने राफेल सौदे का जिक्र किया था।

पणजी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राफेल सौदे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष अपने दिवंगत पिता के ‘बोफोर्स के पापों’ के बोझ तले दबे हैं और इसलिए दूसरों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए मोदी ने उस पर सत्ता में रहते हुए रक्षा सौदों में ‘खेल करने’ का आरोप भी लगाया। यहां एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने राहुल गांधी का नाम नहीं लिया लेकिन परोक्ष रूप से उनकी तुलना शातिर जेबकतरे से की जो चोरी करते पकड़े जाने पर खुद ‘चोर, चोर’ चिल्लाते हुए दूसरों को गुमराह करने के लिहाज से भीड़ में शामिल हो जाता है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि कांग्रेस ने पूर्व रक्षा मंत्रियों जॉर्ज फर्नाडीज और मनोहर पर्रिकर को भी अपमानित किया। शहीदों की पार्थिव देह ले जाने के लिए ताबूत खरीदने के अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के फैसले का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने अनावश्यक रूप से वाजपेयी और फर्नाडीज जैसे ईमानदार लोगों पर इस मुद्दे पर निशाना साधा और कई सप्ताह तक संसद नहीं चलने दी।

मोदी ने इस साल जनवरी में गोवा के तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से राहुल गांधी की मुलाकात का भी जिक्र किया।  मुलाकात के बाद गांधी ने दावा किया था कि पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर ने राफेल सौदे का जिक्र किया था। पर्रिकर ने इस दावे को खारिज कर दिया था। पर्रिकर का हाल ही में निधन हो गया। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘पूरे देश ने देखा, नामदार, पर्रिकर की सेहत के बारे में पूछने गये थे, लेकिन ऐसा झूठ बोले कि कोई कल्पना नहीं कर सकता।’’ इसके बाद मोदी ने 1980 के दशक के मध्य में हुए बोफोर्स सौदे का जिक्र किया और कांग्रेस अध्यक्ष को घेरा जो पिछले कई दिनों से राफेल सौदे में भ्रष्टाचार के आरोप मोदी सरकार पर लगा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मुझे हैरानी है कि वे इतने झूठ क्यों बोलते हैं। शायद वह अपने पिता (दिवंगत राजीव गांधी) के बोफोर्स के पापों के बोझ तले दबे हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए वह दूसरों पर अपराध थोपने का पाप कर रहे हैं।’’ मोदी ने कहा, ‘‘आपको विरासत में पार्टी की कमान मिल सकती है, लेकिन आप 125 करोड़ देशवासियों के दिलों में विश्वास कैसे पैदा करेंगे? कांग्रेस सत्ता के लिए किसी भी स्तर तक जा सकती है?’’ बोफोर्स सौदा 1989 के लोकसभा चुनावों में राजीव गांधी नीत कांग्रेस की हार का प्रमुख कारण माना जाता है। उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस ने रक्षा सौदों में ऐसे खेल किये। कांग्रेस के शासन में हुआ ऐसा कोई रक्षा सौदा नहीं है, जो संदिग्ध नहीं हो।’’


मोदी ने कहा, ‘‘उन्होंने बोफोर्स में दलाली ली। एजेंट क्वात्रोच्चि ‘मामा’ को भाग जाने दिया गया। नतीजतन सेना को एक भी तोप नहीं मिली। क्योंकि कोई भी कांग्रेस के पाप में भागीदार नहीं होना चाहता था।’’ उन्होंने कांग्रेस पर राफेल सौदे को लटकाने का आरोप लगाया। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी सहयोगियों पर आयकर छापों का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि विपक्षी पार्टी लूटने के लिए सत्ता में रहना चाहती है। मोदी ने कहा, ‘‘उन्हें 15 साल बाद मध्य प्रदेश में मौका मिला। उनकी सरकार को वहां कुछ दिन हुए हैं, लेकिन इतने छोटे समय में वे किस तरह की लूट में शामिल हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह सीधे तुगलक रोड चुनावी घोटाले से जुड़ा है। उनके खाते में एक और घोटाला। क्या हम उन्हें देश को लूटने का एक और मौका देंगे?’’ आयकर विभाग ने रविवार को कमलनाथ के कुछ करीबी सहयोगियों के ठिकानों पर छापे मारे।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप