मोमोज का ठेला लगाने वाले ने मोदी से कहा- स्वनिधि योजना के लिए भागदौड़ नहीं करना पड़ा

Modi
उसने कहा कि डूडा एवं नगर निगम ने सर्वे किया। सर्वे के एक सप्ताह बाद यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सोनारपुरा ब्रांच से फोन आया कि उसका लोन आया है। उसने बताया कि इस फोन पर उसे बहुत आश्चर्य हुआ। उसे लगा कि कोई उसे बेवकूफ बना रहा।
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना’ के उत्तर प्रदेश के लाभार्थी एवं वाराणसी के दुर्गा कुंड वेंडिंग जोन में मोमोज एवं काफी का ठेला लगाने वाले अरविंद मौर्या से वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के जरिए संवाद किया। संवाद में मौर्या ने मोदी से कहा कि स्वनिधि योजना का लाभ पाने के लिए उसे कोई भागदौड़ नहीं करना पड़ा। मोदी ने जब मौर्या से पूछा कि स्वनिधि योजना का लाभ पाने के लिए उसे कितना भागदौड़ करना पड़ा और किन-किन अधिकारियों के हाथ पैर पकड़ने पड़े, तो उसने कहा कि उसे कहीं भी भागदौड़ नहीं करना पड़ा। उसने कहा कि डूडा एवं नगर निगम ने सर्वे किया। सर्वे के एक सप्ताह बाद यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सोनारपुरा ब्रांच से फोन आया कि उसका लोन आया है। उसने बताया कि इस फोन पर उसे बहुत आश्चर्य हुआ। उसे लगा कि कोई उसे बेवकूफ बना रहा। मोदी ने मौर्या से जब कहा कि हम बनारस आते हैं तो लोग हमें तो मोमोज नहीं खिलाते, तो उसने प्रधानमंत्री से वायदा किया कि इस बार बनारस आने पर वह उन्हें मोमोज खिलाएगा। इस पर मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा कि उनके सिक्योरिटी के लोग उन्हें सब कुछ ऐसे ही नहीं खाने देते। मौर्या ने प्रधानमंत्री से कहा कि वे रामायण के सबरी की तरह उन्हें मोमोज अवश्य खिलाएगा। कोरोना काल में व्यापार बाधित होने और उस से आने वाली परेशानी का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने उससे पूछा कि कोरोना से बचने के लिए एवं लोगों को जागरूक करने के लिए वह क्या करता है तो मौर्या ने बताया कि मास्क लगाकर आने वालों को एक मोमोज फ्री देने की उसकी स्कीम है। इस पर प्रधानमंत्री ने उसका स्वागत किया। 

इसे भी पढ़ें: ‘इंफेंट्री दिवस’ पर मोदी ने सैनिकों को दी बधाई , कहा- उनके योगदान पर देश को गर्व है

मोमोज की ऑनलाइन होम डिलीवरी के बाबत पूछे जाने पर मौर्या ने बताया कि पिंकी के माध्यम से वह ऑनलाइन डिलीवरी भी करता है। सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ मिलने के बाबत प्रधानमंत्री द्वारा पूछे जाने पर मौर्या ने बताया कि परिवार की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए उसके पास 5 लाख रुपये का आयुष्मान कार्ड बना है। अंत्योदय कार्ड बना है जिससे कोरोना काल में फ्री राशन मिला। श्रम योगी योजना में बीमा हुआ है। सरकार द्वारा भी बीमा कराया गया। मोदी ने मोमोज एवं काफी विक्रेता अरविंद मौर्या से वार्ता के दौरान कोरोना से पूरी सफलता के साथ जंग लड़ने के लिए बनारसवासियों को धन्यवाद एवं नमस्कार किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़