देश में कोरोना से 10 लाख से अधिक मरीज हुए स्वस्थ, उपचाराधीन मामलों से 1.9 गुणा अधिक है संख्या

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 31, 2020   09:29
देश में कोरोना से  10 लाख से अधिक मरीज हुए स्वस्थ, उपचाराधीन मामलों से 1.9 गुणा अधिक है संख्या

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय में विशेष कार्याधिकारी राजेश भूषण ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 21 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में लोगों के संक्रमित पाए जाने की दर 10 प्रतिशत से कम है, जबकि चार राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में यह दर पांच प्रतिशत से कम है।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बृहस्पतिवार को 10 लाख से अधिक हो गई और यह संख्या उपचाराधीन मरीजों से अब 1.9 गुणा अधिक है। इसके अलावा संक्रमण के कारण मारे गए लोगों की दर गिरकर 2.21 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय में विशेष कार्याधिकारी राजेश भूषण ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 21 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में लोगों के संक्रमित पाए जाने की दर 10 प्रतिशत से कम है, जबकि चार राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में यह दर पांच प्रतिशत से कम है। 

इसे भी पढ़ें: Unlock 2 के 30वें दिन स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- जल्द ही रोजाना 10 लाख जाँच होगी

उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में 32,553 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है और इसी के साथ संक्रमण के बाद ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 10,20,582 हो गई है जो कि कोविड-19 मरीजों का 64.44 प्रतिशत है। अधिकारी ने बताया कि देश में इस समय 5,28,242 लोग संक्रमित हैं और उनका उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि भारत में संक्रमण के कारण मारे गए लोगों की दर 2.21 प्रतिशत है, जबकि वैश्विक मृत्युदर चार प्रतिशत है और भारत दुनिया में सबसे कम मृत्युदर वाले देशों में शामिल है। भूषण ने कहा, ‘‘भारत की तुलना में मेक्सिको और ब्रिटेन में मामलों की मृत्युदर क्रमश: पांच और सात गुणा अधिक है।’’ भारत में एक दिन में पहली बार कोरोना वायरस संक्रमण के 50,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए, जिसके बाद बृहस्पतिवार को देश में कुल संक्रमितों की संख्या 15,83,792 हो गई, जबकि 775 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 34,968 हो गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।