29 और 30 नवंबर को दिल्ली में ‘मार्च’ करेंगे एक लाख से ज्यादा किसान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2018   13:09
29 और 30 नवंबर को दिल्ली में ‘मार्च’ करेंगे एक लाख से ज्यादा किसान

मार्च के पहले दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम ''एक शाम किसान के नाम'' का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें जाने माने गायक और कवि हिस्सा लेंगे।

नयी दिल्ली। देशभर के एक लाख से ज्यादा किसानों ने केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ 29 और 30 नवंबर को राजधानी में बड़ा मार्च निकालने की योजना बनाई है। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति(एआईकेएससीसी) के संयोजक हन्नान मोल्लाह ने कहा कि 29 नवंबर को दिल्ली के अलग अलग इलाकों बिजवासन, मजनूं का टीला, निजामुद्दीन और आनंद विहार से रामलीला मैदान तक किसान मुक्ति मार्च निकाला जाएगा। एआईकेएससीसी 208 किसान तथा कृषि कर्मचारियों का संगठन है।

मार्च के पहले दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम 'एक शाम किसान के नाम' का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें जाने माने गायक और कवि हिस्सा लेंगे। मोल्लाह जो माकपा के वरिष्ठ नेता भी हैं, ने कहा कि 30 नवंबर को किसान रामलीला मैदान से संसद की ओर मार्च शुरू करेंगे। इसके बाद पार्लियामेंट स्ट्रीट पर भाजपा को छोड़कर किसान नेता और अलग अलग दलों के नेता किसानों के मुद्दों पर आवाज बुलंद करेंगे। 

अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय सचिव अतुल अंजान ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और आंध्र प्रदेश, केरल, पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों समेत तमाम बडे़ विपक्षी नेताओं को विरोध प्रदर्शन में शामिल होने का निमंत्रण भेजा गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...