दिल्ली पहुंचा CDS रावत सहित सभी मृतकों का पार्थिव शरीर, PM मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी श्रद्धांजलि

दिल्ली पहुंचा CDS रावत सहित सभी मृतकों का पार्थिव शरीर, PM मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी श्रद्धांजलि

एयरपोर्ट पर ही सभी को श्रद्धांजलि दी जाएगी। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई गणमान्य लोग श्रद्धांजलि देने पहुंच सकते हैं। इसके साथ ही तीनों सेना के सेना अध्यक्ष भी मौजूद रहेंगे।

सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी धर्मपत्नी मधुलिका रावत समेत 13 पार्थिव शरीर तमिलनाडु के कुन्नूर से दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर पहुंच गए हैं। वायुसेना के विशेष विमान से इंसानों को दिल्ली लाया गया है। एयरपोर्ट पर ही सभी को श्रद्धांजलि दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल समेत कई गणमान्य लोगों ने मृतकों को श्रद्धांजलि दी।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, अजीत डोभाल ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। दुर्घटना में मारे गए अन्य कर्मियों में ब्रिगेडियर एल एस लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, विंग कमांडर पी एस चौहान, स्क्वाड्रन लीडर के सिंह, जेडब्ल्यूओ दास, जेडब्ल्यूओ प्रदीप ए, हवलदार सतपाल, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, लांस नायक विवेक कुमार और लांस नायक साई तेजा शामिल हैं।

 

आपको बता दें कि भारत के पहले सीडीएस जनरल रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य की बुधवार को हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो गयी थी। बाद में शवों को एंबुलेंस के माध्यम से पास के कोयंबटूर स्थित सुलूर एयरबेस लाया गया, जहां से उन्हें राष्ट्रीय राजधानी ले जाया गया। मद्रास रेजिमेंटल सेंटर, वेलिंगटन से कोयंबटूर तक लगभग 90 किलोमीटर के मार्ग में मृतकों के अंतिम दर्शन के लिए सड़क के दोनों ओर लोगों की कतार लगी रही। लोगों ने एम्बुलेंस पर फूल बरसाए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...