आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के जवान मनीष कारपेंटर, शिवराज बोले- MP को अपने वीर सपूत पर गर्व है

shivraj singh chouhan
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राजगढ़ के खुजनेर की माटी के लाल, वीर सपूत मनीष कारपेंटर कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गये। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कश्मीर के बारामूला में आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के जवान मनीष कारपेंटर की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया। चौहान ने गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, ‘‘कश्मीर के बारामूला के पास सुरक्षा बलों पर आतंकी हमले में गंभीर रुप से घायल हुए देशभक्त जवान मनीष को उचित उपचार के बाद भी बचाया नहीं जा सका।’’ उन्होंने कहा, ‘‘राजगढ़ के खुजनेर की माटी के लाल, वीर सपूत मनीष कारपेंटर कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गये। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। मध्यप्रदेश को अपने वीर सपूत पर गर्व है।’’ कारपेंटर (22) मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के खुजनेर कस्बे के निवासी थे और वर्ष 2016 में सेना में भर्ती हुए थे। उनके भाई हरीश वह भी सेना हैं और राजस्थान में तैनात हैं। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर के राजौरी में LoC के पास पाकिस्तानी सेना ने की गोलाबारी 

उन्होंने कहा कि शहीद जवान का शव यहां आने के बाद 26 अगस्त को उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा। एक अधिकारी ने बताया कि बहादुर सैनिक बारामूला के क्रीरी इलाके में तलाशी अभियान पर थे। इस दौरान दौरान आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी कर दी। मुठभेड़ में कारपेंटर गंभीर रुप से घायल हो गये। उन्हें उपचार के लिये अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। अधिकारी ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार 26 अगस्त को किया जायेगा। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी कारपेंटर की शहादत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा, ‘‘ कश्मीर के बारामूला में आतंकी हमले में घायल मध्यप्रदेश के राजगढ़ के खुजनेर के वीर सपूत मनीष कारपेंटर के शहीद होने का समाचार बेहद दुःखद है। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। ऐसे वीर सपूतों पर पूरे प्रदेश को को गर्व है, इन वीर सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़