नगालैंड गोलीबारी खुफिया विफलता का नतीजा: कांग्रेस की टीम ने सोनिया को भेजी रिपोर्ट में कहा

Intelligence
प्रतिरूप फोटो
कांग्रेस की एक टीम नौ दिसंबर को घटनास्थल का दौरा करने के लिए दिल्ली से रवाना हुई थी लेकिन जोरहाट हवाई अड्डे पर उसे रोक दिया गया। हालांकि, भारी विरोध के बाद टीम को डिब्रूगढ़ अस्पताल में इलाज करा रहे घायलों से मिलने की अनुमति दी गई।

जमशेदपुर (झारखंड)|  कांग्रेस द्वारा गठित एक तथ्यान्वेषी दल ने दावा किया कि खुफिया विफलता के कारण नगालैंड गोलीबारी की घटना हुई। इस महीने की शुरुआत में सुरक्षा बलों द्वारा की गई गोलीबारी में 14 लोग मारे गए थे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, सांसद गौरव गोगोई और एंटो एंटनी तथा पूर्व सांसद अजय कुमार की टीम ने बृहस्पतिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपनी रिपोर्ट सौंपी।

नगालैंड के कांग्रेस प्रभारी कुमार ने शुक्रवार को यहां जारी एक बयान में कहा कि घटना के कारणों की जांच के लिए गांधी के निर्देश पर टीम का गठन किया गया था।

रिपोर्ट में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर आरोप लगाया गया कि उन्होंने इस घटना पर संसद के पटल पर ‘‘झूठ’’ बोला और सवाल किया कि शाह ने घटनास्थल का दौरा क्यों नहीं किया।

कांग्रेस की एक टीम नौ दिसंबर को घटनास्थल का दौरा करने के लिए दिल्ली से रवाना हुई थी लेकिन जोरहाट हवाई अड्डे पर उसे रोक दिया गया। हालांकि, भारी विरोध के बाद टीम को डिब्रूगढ़ अस्पताल में इलाज करा रहे घायलों से मिलने की अनुमति दी गई।

पुलिस के अनुसार नगालैंड के मोन जिले में सुरक्षा बलों ने लोगों पर गोलियां चलाईं, जिसमें 14 की मौत हो गई और 11 घायल हो गए। घटना के बाद हुई हिंसा में एक सैनिक की भी मौत हो गई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़