दीपोत्सव के तर्ज पर अयोध्या में मनाया जा रहा नंदीग्राम महोत्सव

Nandigram Festival
सत्य प्रकाश । Aug 30, 2021 10:09PM
श्री राम जन्मभूमि से 25 किलोमीटर दूर स्थित भगवान भारत के तपोस्थली नंदीग्राम को विकसित किए जाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की गई है मांग।

अयोध्या। राम नगरी अयोध्या में दीपोत्सव की तर्ज पर राम जन्मभूमि परिसर से 25 किलोमीटर दूर स्थित नंदीग्राम महोत्सव का आयोजन शुरू किया गया है। इसके उद्घाटन सत्र में उत्तर प्रदेश के पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी पहुंचे। जहां सांस्कृतिक व धार्मिक आयोजनों के साथ दीप प्रज्वलन के आयोजन को लेकर तीन दिवसीय महोत्सव का शुभारंभ किया गया।

इसे भी पढ़ें: अयोध्या पहुंचे महामहिम राष्ट्रपति ने कहा- राम के बिना अयोध्या की कल्पना नही

भगवान श्री राम के भक्त मंदिर निर्माण के साथ अयोध्या में दीपोत्सव का आयोजन की परंपरा को भव्यता के साथ मनाए जाने का कार्य प्रारंभ हुआ था। जिसके बाद अयोध्या में पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है  जिसको लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने पर्यटकों की तमाम सुविधाओं को लेकर खाका तैयार किया है। लेकिन श्री राम जन्म स्थान से 25 किलोमीटर दूर स्थित भगवान भरत की तपोस्थली नंदीग्राम विकास की परियोजनाओं से उपेक्षित रहा। जिसको लेकर अब संतों ने नंदीग्राम को विकसित किए जाने के लिए महोत्सव का आयोजन की परंपरा को शुरू किया है। जिसकी शुरुआत के आज दूसरे दिन धार्मिक व सांस्कृतिक आयोजन किए गए। तो वही 31 अगस्त को भव्य दीपोत्सव का आयोजन कर इस महोत्सव का समापन किया जाएगा। जिसमें उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या शामिल होंगे इस आयोजन को लेकर प्रदेश सरकार से मांग किया है कि अयोध्या के तर्ज पर अब नंदीग्राम को भी विकसित किया जाए। जिससे आने वाले पर्यटकों को रुकने सहित अन्य तमाम सुविधाएं मिल सकें।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस के घोषणा पत्र में अयोध्या के मुद्दे भी होंगे शामिल: सलमान खुर्शीद

मणिराम दास छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास ने कहा कि हिंदू धर्म से जुड़े लोग किसी भी तीर्थ यात्रा पर अयोध्या पहुंचते हैं। तो उन्हें तपोस्थली नंदीग्राम भी आना पड़ता है। लेकिन आज शासन और प्रशासन के द्वारा नंदीग्राम को उपेक्षित किया जा रहा है। बाहर से आने वाले यात्रियों को ना ही रुकने की कोई व्यवस्था है। और ना ही अन्य संसाधन। इसलिए हमारा प्रयास है कि नंदीग्राम का भी विकास हो। इसके लिए पहले भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी वार्ता हुई है। हमारा पूरा प्रयास है कि इस स्थल को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाए। इसलिए इस प्रकार के आयोजन की शुरुआत की गई है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़