पटनायक ने कोरोना के खिलाफ ओडिशा की लड़ाई की सराहना की, कहा- मृत्यु दर सबसे कम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2020   18:01
पटनायक ने कोरोना के खिलाफ ओडिशा की लड़ाई की सराहना की, कहा- मृत्यु दर सबसे कम

पटनायक ने दावा किया कि कई शक्तिशाली राष्ट्र और समृद्ध भारतीय राज्य भी स्थिति का प्रबंधन करने में असमर्थ रहे हैं, लेकिन ओडिशा ने पिछले दो महीनों में इस बीमारी के प्रसार को सफलतापूर्वक काबू में किया है और सुनिश्चित किया है कि लोग ठीक हों और मृत्यु दर को नण्य रखा है।

भुवनेश्वर। कोरोना वायरस महामारी से मानव जीवन बचाने में ओडिशा को एक मिसाल बताते हुए, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बृहस्पतिवार को कहा कि प्रदेश में कोविड-19 से होने वाली मौतों की दर 0.46 फीसदी है जो देश और दुनिया में सबसे कम है। पटनायक ने दावा किया कि कई शक्तिशाली राष्ट्र और समृद्ध भारतीय राज्य भी स्थिति का प्रबंधन करने में असमर्थ रहे हैं, लेकिन ओडिशा ने पिछले दो महीनों में इस बीमारी के प्रसार को सफलतापूर्वक काबू में किया है और सुनिश्चित किया है कि लोग ठीक हों और मृत्यु दर को नण्य रखा है।

उन्होंने कोविड योद्धाओं के समर्पण और सेवा की सराहना की, जिन्होंने प्रदेश में मृत्यु दर 0.46 प्रतिशत पर नियंत्रित करने में मदद की और सुनिश्चित किया है कि 50 फीसदी से ज्यादा मरीज सेहतमंद हो जाएं। ओडिशा में कोरोना वायरस के 1,660 मामले आए हैं जिनमें से 887 ठीक हो गए हैं तथा छह अप्रैल से सात लोगों की मौत हो चुकी है। पटनायक ने एक वीडियो संदेश में कहा, हमने दो महीने पहले कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई शुरू की थी, हमारा लक्ष्य राज्य के 4.5 करोड़ लोगों के जीवन को बचाना था और हमने यह सुनिश्चित किया है। यह राज्य के लिए एक अभूतपूर्व सफलता है।

इसे भी पढ़ें: चक्रवात प्रभावित पश्चिम बंगाल में भारी बारिश, तेज हवाओं ने ली दो की जान

कोविड योद्धाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए पटनायक ने ओडिशा से ताल्लुक रखने वाले सभी लोगों से 30 मई को शाम साढ़े पांच बजे बंदे उत्कल जननी गीत (जिसे राज्य का गीत माना जाता है) गाने की अपील की। इस दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखने को कहा। मुख्यमंत्री ने कहा, यह हमारे संकल्प को मजबूत करने की प्रेरणा देगा। उन्होंने यह भी कहा कि यह कदम डॉक्टर, नर्स, जन प्रतिनिधि और गैर सरकारी स्वयंसेवकों समेत उन सभी अग्रिम पंक्ति के कर्मियों का हौसला बढ़ाएगा जो महामारी से निपटने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।