JK में अभी हों चुनाव तो अब्दुल्ला की पार्टी मारेगी बाजी, BJP रहेगी दूसरे नंबर पर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2018   12:38
JK में अभी हों चुनाव तो अब्दुल्ला की पार्टी मारेगी बाजी, BJP रहेगी दूसरे नंबर पर

इंडिया टीवी-सीएनएक्स द्वारा जम्मू-कश्मीर में किए गए सर्वे से यह संकेत मिलता है कि अगर वहां अभी विधानसभा चुनाव कराए जाएं तो पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के नेतृत्व वाली नेशनल कॉन्फ्रेंस सबसे बड़े दल के तौर पर उभर सकती है।

विज्ञप्ति। नई दिल्ली। इंडिया टीवी-सीएनएक्स द्वारा जम्मू-कश्मीर में किए गए सर्वे से यह संकेत मिलता है कि अगर वहां अभी विधानसभा चुनाव कराए जाएं तो पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के नेतृत्व वाली नेशनल कॉन्फ्रेंस सबसे बड़े दल के तौर पर उभर सकती है। इस सर्वे के मुताबिक, नेशनल कॉन्फ्रेंस 87 सीटों वाली विधानसभा की 31 सीटों पर जीत हासिल कर सकती है जबकि बीजेपी 23 सीटें जीत सकती हैं।

महबूबा मुफ्ती की अगुवाई वाली पीपुल्स डेमोक्रैटिक पार्टी (पीडीपी) 16 सीटें जीत सकती है। कांग्रेस के खाते में केवल 7 सीटें जा सकती हैं जबकि 10 सीटें 'अन्य' के खाते में जाने का अनुमान है। 'अन्य' में निर्दलीय, जम्मू-कश्मीर पैंथर्स पार्टी और सज्जाद लोन की जम्मू-कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस शामिल है।

2014 में डब चुनाव हुए थे, उस समय पीडीपी 28 सीटें जीतकर सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी थी, बीजेपी को 25 सीटें मिली थीं, नेशनल कॉन्फ्रेंस को 15 और कांग्रेस को 12 सीटों पर सफलता मिली थी।

वोट शेयर की बात करें, तो नेशनल कॉन्फ्रेस को इस बार 26.94 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है, बीजेपी को 26.1 फीसदी, पीडीपी को 15.63 फीसदी और कांग्रेस को 16 फीसदी वोट मिल सकते हैं। 2014 के विधानसभा चुनाव की तुलना में नेशनल कॉन्फ्रेंस के वोट शेयर में 15.72 फीसदी का उछाल नजर आ रहा है। 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 32.65 फीसदी, कांग्रेस को 23.07 फीसदी और नेशनल कॉन्फ्रेंस को 11.22 फीसदी वोट मिले थे।

क्षेत्रवार बात करें, तो इस बार उत्तर कश्मीर और दक्षिण कश्मीर में नेशनल कॉन्फ्रेंस अच्छा प्रदर्शन कर सकती है। उत्तर कश्मीर की कुल 25 सीटों में से नेशनल कॉन्फ्रेंस 12 सीटें जीत सकती है, पीडीपी को 7 सीटों पर सफलता मिल सकती है, कांग्रेस के खाते में 2 सीटें जाने का अनुमान है और 'अन्य' के खाते में 4 सीटें जा सकती हैं।

दक्षिण कश्मीर की कुल 21 सीटों में से नेशनल कॉन्फ्रेंस 10 सीटें जीत सकती है, पीडीपी को 7 सीटों पर सफलता मिल सकती है, कांग्रेस-1 और 'अन्य' को तीन सीटें मिल सकती हैं।

जम्मू क्षेत्र की कुल 37 सीटों में से 21 सीटों पर बीजेपी जीत हासिल कर सकती है, नेशनल कॉन्फ्रेंस को 9, जबकि पीडीपी और कांग्रेस को 2-2 सीटों पर सफलता मिल सकती है। जम्मू क्षेत्र की बाकी तीन सीटें 'अन्य' के खाते में जाने का अनुमान है।

लद्दाख क्षेत्र की 4 सीटों में से बीजेपी और कांग्रेस दोनों को दो-दो सीटों पर सफलता मिल सकती है।

अगर जम्मू-कश्मीर में अभी लोकसभा चुनाव कराए जाएं तो कुल 6 संसदीय सीटों में से बीजेपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस 2-2 सीटों पर जीत हासिल कर सकती हैं जबकि कांग्रेस और पीडीपी को एक-एक सीट मिलने का अनुमान है। इंडिया टीवी-सीएनएक्स ओपिनियन पोल के लिए जम्मू-कश्मीर में 25 अक्टूबर से 12 नवंबर के बीच सर्वे किया गया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।