अनुसूचित जाति की योजनाओं के कार्यान्वयन में त्रुटियां पाई गईं: सांपला

Sampla
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
उन्होंने कहा कि राज्य की नौकरियों में आरक्षण को नहीं रोका जा सकता। उन्होंने कहा कि हमने अधिकारियों से कहा है कि अनुसूचित जाति की योजनाओं के लिये सरकार जहां-जहां पर पैसा खर्च कर रही है, वहां इसका उपयोग अनुसूचित जाति के कल्याण के लिये नहीं किया जा रहा है।

जयपुर, 26 अगस्त। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने बृहस्पतिवार को राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में अनुसूचित जाति कल्‍याण की योजनाओं के क्रियान्वयन, उनके कल्याण के लिये किये जा रहे कार्यो में कुछ ना कुछ त्रुटियां पाई गई हैं। अनुसूचित जाति की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन, कल्याण के लिये उठाये गये कदमों, दलित अत्याचार के बारे में यहां अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में सांपला ने कहा ‘‘राजस्थान में कुछ आदिवासी क्षेत्र हैं जहां पर अनुसूचित जाति का आरक्षण पूरी तरह से लागू नहीं है।’’

उन्होंने कहा कि राज्य की नौकरियों में आरक्षण को नहीं रोका जा सकता। उन्होंने कहा कि हमने अधिकारियों से कहा है कि अनुसूचित जाति की योजनाओं के लिये सरकार जहां-जहां पर पैसा खर्च कर रही है, वहां इसका उपयोग अनुसूचित जाति के कल्याण के लिये नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति के उत्थान के लिये भी पैसा खर्च किया जाना चाहिए। सांपला ने कहा कि सभी विभागों में बहुत सारी त्रुटियां पाई गईं और सभी अधिकारियों ने कहा कि निकट भविष्य में वो इसमें सुधार करेंगे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों ने कहा कि तीन महीने के अंदर सभी त्रुटियों को दूर करेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़