नयी प्रयोगशालाओं से कोरोना वायरस का प्रसार रोकने में मदद मिलेगी: अमित शाह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 27, 2020   21:38
नयी प्रयोगशालाओं से कोरोना वायरस का प्रसार रोकने में मदद मिलेगी: अमित शाह

यह भविष्योन्मुखी परियोजना भारत को आत्मनिर्भर और भविष्य में कोविड जैसी महामारी से निपटने के लिये तैयार करने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नजरिये को दर्शाती है।

नयी दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोविड-19 की जांच के लिये तीन नयी अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं के उद्घाटन से उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस का प्रसार रोकने में महत्वपूर्ण मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने सोमवार को डिजिटल तरीके से नोएडा, मुंबई और कोलकाता में कोविड-19 जांच प्रयोगशाला का उद्घाटन किया।

प्रधानमंत्री द्वारा “उच्च प्रवाह क्षमता वाली कोविड-19 जांच प्रयोगशालाओं” के उद्घाटन पर कृतज्ञता व्यक्त करते हुए शाह ने कहा कि शुरुआती पहचान के जरिये ये तीन बेहद उन्नत केंद्र इन राज्यों में कोरोना वायरस के प्रसार को और रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। 

इसे भी पढ़ें: देश में कोरोना मृत्यु दर घटकर 2.28 प्रतिशत हुई, ठीक होने की दर में हुआ इजाफा: सरकार

शाह ने ट्वीट किया, “यह भविष्योन्मुखी परियोजना भारत को आत्मनिर्भर और भविष्य में कोविड जैसी महामारी से निपटने के लिये तैयार करने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नजरिये को दर्शाती है। यह अत्याधुनिक प्रयोगशालाएं सिर्फ कोविड-19 की जांच तक ही सीमित नहीं हैं भविष्य में इन्हें हेपेटाइटिस बी और सी, एचआईवी, डेंगू आदि की जांच के लिये भी इस्तेमाल किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...