NHRC कर्मचारी की कोविड-19 से मौत, अभी तक 17 अन्य पाये जा चुके हैं संक्रमित: सूत्र

NHRC
सूत्रों ने कहा कि यह एनएचआरसी के किसी कर्मचारी की कोविड-19 से मौत होने का पहला मामला है। इसके अलावा अभी तक एनएचआरसी के 17 कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए हैं जिसमें कुछ वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हैं।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के एक कर्मचारी कीकोविड-19 से मौत हो गई है जबकि अभी तक 17 अन्य इससे संक्रमित पाये गए हैं। यह जानकारी सूत्रों ने शुक्रवार को दी। सूत्रों ने बताया कि कोविड- 19 से जान गंवाने वाला कर्मचारी राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में मल्टी टास्किंग कर्मचारी था। सूत्रों ने कहा कि यह एनएचआरसी के किसी कर्मचारी की कोविड-19 से मौत होने का पहला मामला है। इसके अलावा अभी तक एनएचआरसी के 17 कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए हैं जिसमें कुछ वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हैं। सूत्रों ने कहा कि ये मामले 12 जून से 24 जून के बीच सामने आये और कुछ कर्मचारियों के परिवार के कुछ सदस्य भी संक्रमित पाये गए हैं। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार का ऐलान, 31 जुलाई तक बंद रहेंगे सभी स्कूल 

सूत्रों ने कहा कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के एक दल ने शुक्रवार को एनएचआरसी कार्यालय का दौरा किया जो कि दक्षिण दिल्ली में आईएनए क्षेत्र में छह मंजिला मानवाधिकार भवन में स्थित है। इससे पहले इसके कार्यालय से कई मामले सामने आने के बाद सेनेटाइजेशन का कार्य किया गया था। एक सूत्र ने कहा, ‘‘गत सप्ताह बुधवार से शुक्रवार तक मंजिल संख्या पांच और छह को सेनेटाइजेशन कार्य के लिए बंद किया गया था। अधिकतर मामले पांचवीं मंजिल से सामने आये थे।’’ हाल में एनएचआरसी के एक सदस्य के नेतृत्व में उसकी एक टीम ने एलएनजेपी अस्पताल का मौके पर निरीक्षण करने के लिए दौरा किया था। एलएनजेपी अस्पताल दिल्ली सरकार के तहत आने वाली एक समर्पित कोविड-19 इकाई है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़