नीतीश कुमार ने 130 किलोमीटर लंबे चार राज्य उच्च पथों का लोकार्पण किया

Nitish Kumar
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को वीडियो कन्फ्रेंस के माध्यम से 1,121 करोड़ रुपये की लागत से बने 130 किलोमीटर लंबे चार राज्य उच्च पथों का लोकार्पण किया।

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को वीडियो कन्फ्रेंस के माध्यम से 1,121 करोड़ रुपये की लागत से बने 130 किलोमीटर लंबे चार राज्य उच्च पथों का लोकार्पण किया। पटना के एक अणे मार्ग स्थित संकल्प भवन से नीतीश कुमार ने जिन राज्य उच्च पथों का लोकार्पण किया उनमें 332 करोड़ रुपये कीलागत से 41.1 किलोमीटर लंबा राज्य उच्च पथ संख्या 84 (घोघा-पंजवारा पथ), 220.72 करोड़ रुपये की लागत से बना 29.55 किलोमीटर लंबा राज्य उच्च पथ संख्या 85 (अकबरनगर-अमरपुर पथ)] 504 करोड़ रुपये की लागत से बना 55 किलोमीटर लंबा राज्य उच्च पथ संख्या 102 (बिहियां-जगदीशपुर- पीरो-बिहटा पथ) एवं 64.60 करोड़ रुपये की लागत से बना 4.55 किलोमीटर लंबा राज्य उच्च पथ संख्या 91 (बीरपुर-उदाकिशुनगंज पथ) के अंतर्गत बिहारीगंज बाइपास शामिल है।

इसे भी पढ़ें: एजेपी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर असम में मवेशी तस्करी की जांच की मांग की

इस अवसर पर नीतीश कुमार ने कहा कि वर्ष 2005 से पहले तक सड़कों की क्या स्थिति थी, आवागमन में कितनी असुविधा थी ये सभी जानते हैं। हमने सत्ता संभालने के बाद वर्ष 2006 में सड़कों की स्थिति को लेकर सर्वेक्षण कराया। उन्होंने कहा कि जब से हमें बिहार में काम करने का मौका मिला है तब से कई सड़कों और पुल-पुलियों का निर्माण कराया गया। केंद्र में जब अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार थी और मैं उनकी सरकार में मंत्री था, उस दौरान भी केंद्र सरकार द्वारा राज्य में कई सड़कों का निर्माण कराया गया। नीतीश कुमार ने कहा कि पथ निर्माण विभाग के द्वारा कई योजनाओं पर तेजी से काम किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: मनीष सिसोदिया का दावा, केंद्र सरकार ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों की जांच नहीं करना चाहती

बिहटा-सरमेरा पथ काफी बेहतर बना है। इससे पश्चिम से पूर्वी बिहार का संपर्क बेहतर हुआ है। उन्होंने कहा कि घोघा-पंजवारा पथ, अकबरनगर-अमरपुर पथ, बिहियां-जगदीशपुर-पीरो-बिहटा पथ एवं बिहारीगंज बाइपास के निर्माण से उस क्षेत्र के लोगों को आवागमन में काफी सहूलियत होगी। कार्यक्रम को उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी, पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन एवं पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने भी संबोधित किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़