नीतीश कुमार की गाड़ी पर फेंकी गई स्याही, दिखाए गए काले झंडे

नीतीश कुमार की गाड़ी पर फेंकी गई स्याही, दिखाए गए काले झंडे

हिरासत में लिए गए दोनों लोग गरीब जनक्रांति पार्टी के हैं। उमाशंकर यादव राष्ट्रीय प्रवक्ता है जबकि अंकित कुमार जिला छात्र अध्यक्ष। बता दें कि नीतीश कुमार एसकेएमसीएच में पीएसीयू का उद्घाटन करने गए थे।

ऐसा लगता है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए अच्छा दिन नहीं चल रहा है। एक ओर जहां विपक्ष के साथ-साथ उनके अपने साथी भाजपा के कुछ नेता उनपर हमलावर हैं तो दूसरी ओर उनके खिलाफ जनता में भी गुस्सा देखने को मिल रहा है। दरअसल, मंगलवार को मुजफ्फरपुर दौरे पर गए नीतीश कुमार की गाड़ी पर मंगलवार को स्याही फेंकी गई और उन्हें काले झंडे दिखाए गए। इसके बाद पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। 

हिरासत में लिए गए दोनों लोग गरीब जनक्रांति पार्टी के हैं। उमाशंकर यादव राष्ट्रीय प्रवक्ता है जबकि अंकित कुमार  जिला छात्र अध्यक्ष। बता दें कि नीतीश कुमार एसकेएमसीएच में पीएसीयू का उद्घाटन करने गए थे। पर सवाल यह उठ रहे हैं कि आखिर मुख्यमंत्री की यात्रा में हुए सुरक्षा व्यवस्था इनती बड़ी चूक कैसे हुई





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।