Nitish Kumar ने बताई सच्चाई, बुलाए जाने पर भी KCR की सभा में क्यों नहीं हो सकते थे शामिल

Nitish Kumar
ANI
अंकित सिंह । Jan 19, 2023 7:26PM
बिहार के मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कहा है कि राज्य में व्यस्तताओं के कारण वह के चंद्रशेखर राव द्वारा आयोजित विपक्षी नेताओं की सभा में बुलाए जाने पर भी शामिल नहीं हो सकते थे। दरअसल, एनडीए से अलग होने के बाद नीतीश कुमार ने विपक्षी एकजुटता की कोशिश की थी।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों समाधान यात्रा पर निकले हैं। बिहार के विभिन्न जिलों का वह दौरा कर रहे हैं और विकास कार्यों का जायजा ले रहे हैं। इतना ही नहीं, वह लोगों की समस्याओं पर भी सुनवाई कर रहे हैं। हालांकि, यह बात भी सच है कि बिहार की राजनीति फिलहाल गर्म है। इन सब के बीच विपक्षी भाजपा को नीतीश कुमार पर निशाना साधने का एक और बड़ा मौका मिल गया। दरअसल, के चंद्रशेखर राव ने तेलंगाना में एक विशाल जनसभा का आयोजन किया था। इस आयोजन में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव और लेफ्ट नेता डी राजा शामिल हुए थे। हालांकि, भाजपा का दावा है कि नीतीश कुमार को इस सभा के लिए नहीं बुलाया गया था। 

इसे भी पढ़ें: Bank लूटने के इरादे से आए तीन बदमाशों से भिड़ीं दो महिला पुलिसकर्मी, सोशल मीडिया पर जमकर हो रही बहादुरी की तारीफ

अब इसी को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। बिहार के मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कहा है कि राज्य में व्यस्तताओं के कारण वह के चंद्रशेखर राव द्वारा आयोजित विपक्षी नेताओं की सभा में बुलाए जाने पर भी शामिल नहीं हो सकते थे। दरअसल, एनडीए से अलग होने के बाद नीतीश कुमार ने विपक्षी एकजुटता की कोशिश की थी। 2024 में प्रधानमंत्री बनने की महत्वाकांक्षा पाले के चंद्रशेखर राव भी नीतीश कुमार से मिलने बिहार पहुंचे थे। दोनों की दोस्ती भी दिखाई दी थी। लेकिन अब के चंद्रशेखर राव ने उन्हें अपने रैली में नहीं बुलाया तो भाजपा ने नीतीश पर निशाना साधना शुरू कर दिया। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तो साफ तौर पर कहा कि के चंद्रशेखर राव ने नीतीश कुमार को अपनी सभा में इसलिए नहीं बुलाया क्योंकि वह भी खुद को प्रधानमंत्री उम्मीदवार मानते हैं। 

इसे भी पढ़ें: Bihar: गिरीराज सिंह बोले- नीतीश कुमार देश के सबसे लाचार मुख्यमंत्री, अश्विनी चौबे ने बताया समस्या कुमार

अब इसी को लेकर पत्रकारों ने नीतीश कुमार से सवाल पूछ लिया। नीतीश कुमार ने सवाल के जवाब में कहा कि मुझे नहीं पता है। हम लोग तो दूसरे कामों में लगे हैं। जिनको मौका मिला होगा वे लोग गये होंगे। इसमें ऐसी कोई बात नहीं है। यह उनकी पार्टी की रैली थी। उस रैली में जो लोग गये, यह अच्छी बात है। हमलोग रात-दिन यहां के काम में लगे हुए हैं। इस बीच कोई मुझे बुलाये तो भी नहीं जा सकता। यह सब कोई मुद्दा नहीं है। कई दलों का एक जगह समूह बन गया है, ऐसा कुछ नहीं है। यहां भी के. चन्द्रशेखर राव आये थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाधान यात्रा के बाद बिहार में विधानमंडल का सत्र शुरु होने वाला है। उन्होंने कहा कि उसके बाद हमारे पास समय होगा और आगे जो भी करना होगा वह करेंगे।

अन्य न्यूज़