घरों में ऑक्सीजन और जीवनरक्षक दवाओं का अनावश्यक भण्डारण न करें: कलराज मिश्र

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   17:40
घरों में ऑक्सीजन और जीवनरक्षक दवाओं का अनावश्यक भण्डारण न करें: कलराज मिश्र

राजभवन प्रवक्ता के अनुसार, मिश्र ने इस बारे में राज्य के सभी विधायकों और सांसदों को पत्र लिखकर उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिलकर कोरोना वायरस से बचाव और आम जन को राहत पहुंचाने के प्रयास किए जाने का अनुरोध किया है।

जयपुर। राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने लोगों से अपील की है कि वे घरों में ऑक्सीजन और जीवन रक्षक दवाइयों का अनावश्यक भण्डारण न करें। कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मिश्र ने लोगों से यह अपील की है। उन्होंने लोगों से कहा है कि वे अपने घरों में ऑक्सीजन और जीवन रक्षक दवाइयों का अनावश्यक भण्डारण न करें, ताकि जरूरतमंद लोगों को समय पर ऑक्सीजन उपलब्ध करवाकर उनकी जान बचायी जा सके। इसके साथ् ही मिश्र ने राज्य के विधायकों, सांसदों, अधिकारियों, चैरिटेबल संस्थाओं, धार्मिक संस्थाओं से अपील की है कि कोरोना महामारी से बचाव इंतजामों के लिए प्रशासन का सहयोग करें और प्रदेश के उपलब्ध संसाधनों का योजनाबद्ध तरीके से प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने में मदद कर आम जन को राहत प्रदान करें।

राजभवन प्रवक्ता के अनुसार, मिश्र ने इस बारे में राज्य के सभी विधायकों और सांसदों को पत्र लिखकर उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिलकर कोरोना वायरस से बचाव और आम जन को राहत पहुंचाने के प्रयास किए जाने का अनुरोध किया है। मिश्र ने सभी दलों को संकट की इस घड़ी में एकमत होकर कार्य करने का अनुरोध करते हुए प्रमुख सामाजिक संस्थाओं, चैरिटेबल ट्रस्ट, सामाजिक संगठन, रेडक्रॉस, एन.सी.सी., एन.एस.एस., स्काउट गाइड आदि के सहयोग से इस महामारी की रोकथाम के लिए नागरिकों को जागरूक करने पर भी जोर दिया है। उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्र के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों तक यह संदेश पहुंचाया जाए कि कोविड से संक्रमित अधिकतम व्यक्ति स्वस्थ हो रहे हैं ताकि उनका मनोबल बढ़ सके। राज्यपाल ने जन प्रतिनिधियों को आम जन को टीकाकरण के लिए जागरूक करने और अधिकाधिक लोगों के टीकाकरण को सुनिश्चित किए जाने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि प्रयास यह हो कि एक भी पात्र व्यक्ति टीके से वंचित नहीं रहे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।