आने वाले दिन चुनौतीपूर्ण, कोरोना से निपटने के लिए नयी रणनीति बनाएगी ओडिशा सरकार: पटनायक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 26, 2020   18:57
आने वाले दिन चुनौतीपूर्ण, कोरोना से निपटने के लिए नयी रणनीति बनाएगी ओडिशा सरकार: पटनायक

कोविड-19 की स्थिति पर समीक्षा बैठक में पटनायक ने कहा कि प्रशासन मार्च से अपने अनुभवों से सीखे गए सबक के आधार पर नयी रणनीति तैयार करेगा। ओडिशा में कोरोना वायरस के 1517 मामले सामने आए हैं और सात लोगों की मौत हुई है।

भुवनेश्वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए राज्य सरकार एक नयी रणनीति तैयार करेगी क्योंकि आने वाले दिनों में ट्रेन और विमान सेवा बहाल होने से चुनौतियां और बढ़ जाएंगी। कोविड-19 की स्थिति पर समीक्षा बैठक में पटनायक ने कहा कि प्रशासन मार्च से अपने अनुभवों से सीखे गए सबक के आधार पर नयी रणनीति तैयार करेगा। ओडिशा में कोरोना वायरस के 1517 मामले सामने आए हैं और सात लोगों की मौत हुई है।

पटनायक ने कहा, ‘‘विमान और ट्रेन सेवा बहाल होने से अगले 15 से 30 दिन चुनौतीपूर्ण होंगे लेकिन मैं आश्वस्त हूं कि हम पेशेवर तरीके से इससे निपटेंगे।’’ उन्होंने कहा कि राज्य ने पिछले दो महीने में कोरोना वायरस और इससे निपटने के बारे में एक-दो सबक सीखे हैं। पटनायक ने कहा कि पहले से बीमार चल रहे लोगों और बुजुर्ग लोगों पर अतिरिक्त ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘महामारी को हराने और हालात सामान्य बनाने के लिए इन सीखों के आधार पर हमें फिर से अपनी रणनीति बनानी होगी। मैंने जागरूकता बढ़ाने के लिए अभियान चलाने को कहा है।’’ 

इसे भी पढ़ें: राज्यों के राजकोषीय ,राजस्व घाटे में बड़े उछाल का अनुमान : रिपोर्ट

पटनायक ने कहा कि महज 24 दिनों में श्रमिक ट्रेनों और बसों के जरिए राज्य में तीन लाख से ज्यादा लोग लौटे हैं। चक्रवात ‘अम्फान’ से हुए नुकसान के बारे में उन्होंने कहा कि राज्य ने दो दिनों में बिजली सेवा और सड़क संपर्क बहाल कर दिया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।