ओडिशा ने केंद्र से कहा, कोविड-19 टीके की आपूर्ति अपर्याप्त और अनियमित

covid19
महापात्र ने कहा कि ओडिशा में स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चा के सदस्यों और तय उम्र के 20 लाख से अधिक लोगों को टीका लग चुका है। उन्होंने कहा कि एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा और राज्य में इस उम्र वर्ग के करीब एक करोड़ लोग हैं।
भुवनेश्वर। ओडिशा सरकार ने राज्य में कोविड-19 के ‘‘अपर्यापत और अनियमित’’ आपूर्ति पर शुक्रवार को नाखुशी जताई। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को लिखे पत्र में राज्य के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि टीके की आपूर्ति में राज्यों के बीच भेदभाव नहीं होना चाहिए। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी. के. महापात्र ने कहा, ‘‘वर्तमान में हमअग्रिम 15 दिन के लिए भी टीकाकरण सत्र की योजना नहीं बना सकते क्योंकि हमारे राज्य में अपर्याप्त एवं अनियमित आपूर्ति है।’’ 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 के 2 लाख खुराक भेंट करने पर UN के शीर्ष अधिकारियों ने किया भारत का शुक्रिया

महापात्र ने कहा कि ओडिशा में स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चा के सदस्यों और तय उम्र के 20 लाख से अधिक लोगों को टीका लग चुका है। उन्होंने कहा कि एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा और राज्य में इस उम्र वर्ग के करीब एक करोड़ लोग हैं। उन्होंने कहा कि ओडिशा में लू की स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार टीकाकरण अभियान तेज करने की योजना बना रही है। महापात्र ने पत्र में लिखा, ‘‘आपसे आग्रह है कि हमारे राज्य के लिए कम से कम 15 दिन अग्रिम टीका जरूरतों को लेकर आपूर्ति की जाए ताकि निर्बाध टीकाकरण अभियान चल सके।’’ सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार को 72,739 लाभार्थियों को टीका लगाया गया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़