पवार के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन के मामले में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी निलंबित

Sharad Pawar
पवार के बंगले के बाहर रविवार को महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन के बाद डीसीपी (अपराध) नीलोत्पल को डीसीपी जोन- II के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया था। क्षेत्र का अतिरिक्त प्रभार डीसीपी योगेश कुमार (मुख्यालय-द्वितीय) के पास है।

मुंबई|  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार के दक्षिण मुंबई स्थित आवास के बाहर महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) के हड़ताली कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन करने के दो दिन बाद रविवार को मुंबई पुलिस ने गामदेवी पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक को निलंबित कर दिया।

एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। निलंबित अधिकारी की पहचान रामप्यारे राजभर के रूप में हुई है, जिन्हें विरोध प्रदर्शन के एक दिन बाद नियंत्रण कक्ष में स्थानांतरित कर दिया गया था।

पवार के बंगले के बाहर रविवार को महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन के बाद डीसीपी (अपराध) नीलोत्पल को डीसीपी जोन- II के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया था। क्षेत्र का अतिरिक्त प्रभार डीसीपी योगेश कुमार (मुख्यालय-द्वितीय) के पास है।

पेडर रोड क्षेत्र जहां पवार का बंगला स्थित है, वह मुंबई पुलिस के जोन II के अंतर्गत आता है। एक अधिकारी ने शनिवार को कहा था कि पुलिस ने इस बात की भी जांच शुरू कर दी है कि क्या संबंधित पुलिस अधिकारियों ने ड्यूटी में कोई लापरवाही की थी, जिसके कारण यह घटना हुई।

मुंबई पुलिस ने शनिवार तक विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में 110 लोगों को गिरफ्तार किया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़