मुंबई में भी ओमिक्रोन वेरिएंट की दस्तक, विदेश से लौटा शख्स पाया गया संक्रमित, देश में कुल मामले 4 हुए

मुंबई में भी ओमिक्रोन वेरिएंट की दस्तक, विदेश से लौटा शख्स पाया गया संक्रमित, देश में कुल मामले 4 हुए

महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि 33 वर्षीय यात्री 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन से दुबई और दिल्ली के रास्ते मुंबई पहुंचा। उन्होंने कोई टीका नहीं लिया है। उनके उच्च जोखिम वाले संपर्कों में से 12 और कम जोखिम वाले संपर्कों में से 23 का पता लगा लिया गया है और सभी का कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आया है।

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में भी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन का एक मरीज पाया गया है। इसके साथ ही भारत में ओमिक्रोन से संक्रमित लोगों की संख्या 4 हो गई है। इससे पहले कर्नाटक में 2 मामले में और गुजरात में 1 मामला सामना आया था। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि कल्याण-डोंबिवली का एक 33 वर्षीय व्यक्ति जो हाल में ही दक्षिण अफ्रीका से लौटा था, कोविड-19 के ओमिक्रोन वेरिएंट से संक्रमित पाया गया है। यह मामला महाराष्ट्र में पहला है जबकि देश का चौथा है।

महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि 33 वर्षीय यात्री 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन से दुबई और दिल्ली के रास्ते मुंबई पहुंचा। उन्होंने कोई टीका नहीं लिया है। उनके उच्च जोखिम वाले संपर्कों में से 12 और कम जोखिम वाले संपर्कों में से 23 का पता लगा लिया गया है और सभी का कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आया है। इसके अतिरिक्त, दिल्ली-मुंबई उड़ान के 25 सह-यात्रियों का भी परीक्षण नकारात्मक रहा है। अभी और संपर्कों का पता लगाया जा रहा है। 

इससे पहले आज ही जिम्बाब्वे से लौटा गुजरात के जामनगर शहर का 72 वर्षीय एक व्यक्ति कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ से संक्रमित पाया गया है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने शनिवार को यह जानकारी दी। जिम्बाब्वे अधिक जोखिम वाले देशों की श्रेणी में शामिल है। कर्नाटक में दो व्यक्ति वायरस के इस स्वरूप से संक्रमित मिले थे। गुजरात के स्वास्थ्य आयुक्त जयप्रकाश शिवहरे ने पुष्टि की कि जामनगर शहर का संबंधित व्यक्ति कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ से संक्रमित पाया गया है। अधिकारियों ने कहा कि यह व्यक्ति 28 नवंबर को जिम्बाब्वे से गुजरात आया था और दो दिसंबर को कोरोना वायरस से संक्रमित मिला था, जिसके बाद उसका नमूना जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजा गया था। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।