योग दिवस पर पीएम मोदी ने 40 हजार लोगों के साथ 40 मिनट में 24 योगासन किए

on-yoga-day-pm-modi-made-24-yoga-sessions-in-40-minutes-with-40-thousand-people
मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के निदेशक एम बसवा रेड्डी के मार्गदर्शन में प्रधानमंत्री एवं अन्य सभी लोगों ने वज्रासन एवं पाश्र्वोत्तानासन से लेकर मत्स्यासन, ताड़ासन, सेतुबन्धासन, वृक्षासन, वीरभद्रासन, शवासन एवं प्राणायाम समेत लगभग दो दर्जन योगासन बड़ी कुशलता से किये।

रांची। पांचवें अंतरराष्ट्रीय योगदिवस के अवसर पर शुक्रवार को यहां आयोजित मुख्य कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लगभग चालीस हजार लोगों के साथ चालीस मिनट में 24 योगासन किये जिसे देखकर बच्चे और बुजुर्ग सभी चकित रह गए। प्रधानमंत्री ने यहां धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान में आयोजित पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम में सिर्फ चालीस मिनट में लगभग दो दर्जन विभिन्न योगासन किये और इस दौरान उन्होंने कोई त्रुटि नहीं की जिसे देखकर यहां आये चालीस हजार से अधिक लोग, सभी अचंभित थे।

इसे भी पढ़ें: लोकसभा अध्यक्ष की अगुवाई में संसद भवन परिसर में मनाया गया योग दिवस

मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के निदेशक एम बसवा रेड्डी के मार्गदर्शन में प्रधानमंत्री एवं अन्य सभी लोगों ने वज्रासन एवं पाश्र्वोत्तानासन से लेकर मत्स्यासन, ताड़ासन, सेतुबन्धासन, वृक्षासन, वीरभद्रासन, शवासन एवं प्राणायाम समेत लगभग दो दर्जन योगासन बड़ी कुशलता से किये। नीली धारी वाली सफेद टी शर्ट, सफेद पायजामा एवं सफेद मोजे के साथ गुलाबी-सफेद प्रिंट वाला गमछा डाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब अपना भाषण देकर लोगों के बीच योगासन के लिए जाने लगे तो आसमान से बारिश की बूंदे टपकने लगीं। लेकिन प्रधानमंत्री के पग ठिठके नहीं और वह मंच से उतरकर सीधे अर्ध सैनिक बलों के बीच रिक्त स्थान पर पहुंचे और सब के बीच बैठकर उन्होंने योगासन किये।

इसे भी पढ़ें: शून्य से शिखर तक पहुंचा ‘योग’

प्रधानमंत्री एवं उनके साथ प्रभात तारा मैदान में उपस्थित सभी लोगों ने वज्रासन, भुजंगासन, मत्स्यासन, सेतुबन्धासन, पदांगुष्ठ धनुरासन, आंजनेयासन, उत्तान आसन, पाद हस्तासन, ताड़ासन, वृक्षासन, वीरभद्रासन, अनुलोम-विलोम, प्राणायाम, कपालभाति, त्रिकोणासन, अर्धचन्द्रासन, परिवृत्त पाश्र्वकोणासन, पाश्र्वोत्तानासन, शवासन, अर्ध धनुरासन, सर्पासन एवं शशकासन बड़ी कुशलता से किये।

प्रधानमंत्री ने प्रणायाम भी चार प्रकार के किये।

इसे भी पढ़ें: योग दिवस पर बोले नरेन्द्र मोदी, उत्तम स्वास्थ्य के लिए चार ‘पकार’ आवश्यक

बाद में वहां आये छात्रों, महिलाओं, बच्चों एवं बुजुर्गों ने भी प्रधानमंत्री की इस पहल और कुशलता की भूरि भूरि प्रशंसा की। एक बालिका प्रियंका ने कहा कि वह तो इतने तरह के आसनों के बारे में जानती ही नहीं थी। दूसरी ओर एक बुजुर्ग महिला श्यामली देवी ने कहा, ‘‘देश को एक योगी प्रधानमंत्री मिला है जिसका लाभ सभी को आने वाले समय में अवश्य होगा।’ एक सुरक्षाकर्मी तेजस्वी उरांव ने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ योगासन कर उसे बहुत अच्छा लगा और अब से वह सदा नियमित योगासन करेगा। प्रधानमंत्री ने किसी को निराश भी नहीं किया और योग के कार्यक्रम के बाद वह मैदान के विभिन्न हिस्सों में जाकर लोगों से मिले और उनके साथ सेल्फी खिंचवाई जिससे लोग बेहद प्रसन्न एवं उत्साहित थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़