भारत की एक तिहाई आबादी ने ली कम से कम वैक्सीन की सिंगल डोज, टॉप 5 राज्यों में यूपी पहले स्थान पर

vaccine
अभिनय आकाश । Aug 24, 2021 7:23PM
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक भारत की जनसंख्या एक अरब 37 करोड़ के करीब है। जिनमें से करीब 50 करोड़ लोगों की आयु 18 साल से कम की है, जिनकी वैक्सीन पर अभी काम चल रहा है।

कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार अब थम चुकी है। लेकिन इस बीच कोरोना के खिलाफ यूपी की तैयारियों की सराहना हो रही है। जी हां, बीते दिनों कोरोना कंट्रोल करने के मामले में अपने से कई संपन्न राज्यों को पीछे छोड़ने वाला उत्तर प्रदेश कोविड-19 के खिलाफ दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान में भी सबसे आगे हैं। देश में देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 59.38 करोड़ के पार हो गया है। इनमें से 46 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग गई है। वहीं 13.33 करोड़ से ज्यादा लोग वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं। 

एक तिहाई ने लगाया कम से कम सिंगल डोज

 जनवरी में भारत में टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद 21-27 जून का हफ्ता टीकाकरण के लिहाजे से सबसे अच्छा रहे। इस हफ्ते में 4 करोड़ से ज्यादा टीके लगाए गए। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक भारत की जनसंख्या एक अरब 37 करोड़ के करीब है। जिनमें से करीब 50 करोड़ लोगों की आयु 18 साल से कम की है, जिनकी वैक्सीन पर अभी काम चल रहा है। इस हिसाब से देश की कुल आबादी के एक तिहाई लोगों को कम से कम वैक्सीन की सिंगल डोज लग चुकी है। 

वैक्सीनेशन प्रोग्राम में यूपी नं-1  

वैक्सीनेशन के मामले में भारत के पांच टॉप के राज्य यूपी, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश शामिल है। CoWIN डैशबोर्ड पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश राज्य में सबसे अधिक कुल 6,50,67,433 वैक्सीन की खुराक लोगों को दी जा चुकी है। वहीं, महाराष्ट्र में अब तक 5,44,26,729 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई है। गुजरात राज्य में अब तक 4,36,31,533 टीके की खुराक दी गई है। राजस्थान राज्य ने टीके की 4,02,04,272 खुराकें दी हैं। मध्य प्रदेश ने अब तक वैक्सीन की 4,02,04,272 खुराकें दी हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़