• किसानों के मुद्दों पर सदन में सरकार को घेरेगा विपक्ष, नकवी बोले- हम तथ्यों और तर्कों के साथ बातचीत को तैयार

अंकित सिंह Jul 22, 2021 11:01

पुलिस और अर्द्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है। पुलिस की सुरक्षा के साथ 200 किसानों का एक समूह बसों में सिंघू बॉर्डर से जंतर-मंतर आएगा और वहां पूर्वाह्न 11 बजे से शाम पांच बजे तक विरोध प्रदर्शन करेगा।

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन पिछले 8 महीने से जारी है। आज किसान दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इन सबके बीच संसद सत्र भी चल रहा है। ऐसे में विपक्ष किसानों के मुद्दे को संसद में पुरजोर तरीके से उठाने की कोशिश करेगा। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मलिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम किसानों के मुद्दों को सदन में उठा रहे हैं। किसान हमारी रीढ़ की हड्डी है। किसानों के बिना हम जी नहीं सकते। उस आवाज को उठाना ज़रूरी है और हम उठाएंगे।

वहीं, राज्यसभा में सदन के उप नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि मुद्दों, तथ्यों और तर्कों को लेकर किसी भी आंदोलन का स्वागत है लेकिन किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर किस मुद्दे पर कुछ लोग आंदोलन करना दिखा रहे हैं। सरकार ने कहा कि आप आईये जो मुद्दे आपके पास हैं उन पर बात करिए, मुद्दे हैं नहीं। आपको बता दें कि संसद के मानसूत्र के दौरान केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की प्रदर्शन की योजना के मद्देनजर मध्य दिल्ली में जंतर-मंतर पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। जंतर-मंतर, संसद भवन से कुछ मीटर की दूरी पर ही है। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। पुलिस और अर्द्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है। पुलिस की सुरक्षा के साथ 200 किसानों का एक समूह बसों में सिंघू बॉर्डर से जंतर-मंतर आएगा और वहां पूर्वाह्न 11 बजे से शाम पांच बजे तक विरोध प्रदर्शन करेगा।