भारत ने बनाया 100 करोड़ वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड तो तिरंगे की रोशनी में जगमगाते दिखे स्मारक

भारत ने बनाया 100 करोड़ वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड तो तिरंगे की रोशनी में जगमगाते दिखे स्मारक

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने 100 करोड़ वैक्सीनेशन का आंकड़ा पूरा होने पर देश की 100 स्मारकों को तिरंगे की रोशनी से जगमग किया। जिसके कई सारे वीडियो सामने आए। कुतुब मीनार, हुमायूं का मकबरा, चारमीनार, टीपू सुल्तान समर प्लेस इत्यादि स्थान देखने लायक हैं।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ युद्ध में वैक्सीन सबसे बड़ा हथियार है और इसी के तहत भारत ने गुरुवार को 100 करोड़ वैक्सीनेशन का आंकड़ा पार कर लिया है। इसी उपलक्क्ष में तिरंगे की रोशनी से ऐतिहासिक स्थल जगमगाते हुए दिखाई दिए।

इसे भी पढ़ें: जश्न से जख्म नहीं भरेंगे, प्रधानमंत्री बताएं कि 70 दिनों में 106 करोड़ खुराक कैसे दी जाएगी: कांग्रेस

तिरंगे की रोशनी से जगमग हुए स्मारक 

आपको बता दें कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने 100 करोड़ वैक्सीनेशन का आंकड़ा पूरा होने पर देश की 100 स्मारकों को तिरंगे की रोशनी से जगमग किया। जिसके कई सारे वीडियो सामने आए। आगारा फोर्ट, कुतुब मीनार, हुमायूं का मकबरा, चारमीनार, टीपू सुल्तान समर प्लेस इत्यादि स्थान देखने लायक हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली मेट्रो ने कोविड टीके की 100 करोड़ खुराक की उपलब्धि पर संदेश प्रदर्शित किये 

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज, जब भारत ने वैक्सीन सेंचुरी हासिल कर ली है, मैं डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के एक टीकाकरण केंद्र में गया। वैक्सीन हमारे नागरिकों के जीवन में गर्व और सुरक्षा लेकर आयी है। 

हर भारतीय को है गर्व 

वहीं दूसरी तरफ एम्स के निदेशक डॉ.रणदीप गुलेरिया ने कहा कि भारत के लिए ये बहुत ऐतिहासिक है कि हमने आज 100 करोड़ वैक्सीनेशन पूरा किया है। ये इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि वैक्सीन का पूरा उत्पादन भारत में ही किया गया है और ये काम हमने काफी कम समय में किया है। जिसके लिए आज हर भारतीय को गर्व है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।