भाजपा ने नुपुर शर्मा प्रकरण से कोई सबक नहीं सीखा: ओवैसी

Owaisi
प्रतिरूप फोटो
ANI
अखिल भारतीय मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असददुद्दीन ओवैसी ने पैगंबर मोहम्मद पर कथित टिप्पणी करने वाले और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से अब निलंबित कर दिए गए विधायक राजा सिंह की मंगलवार को आलोचना की और कहा कि भाजपा ने नुपुर शर्मा प्रकरण से कोई सबक नहीं सीखा है।

हैदराबाद, 24 अगस्त। अखिल भारतीय मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असददुद्दीन ओवैसी ने पैगंबर मोहम्मद पर कथित टिप्पणी करने वाले और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से अब निलंबित कर दिए गए विधायक राजा सिंह की मंगलवार को आलोचना की और कहा कि भाजपा ने नुपुर शर्मा प्रकरण से कोई सबक नहीं सीखा है। शर्मा की टिप्पणी के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तीखी प्रतिक्रिया हुई थी। शर्मा को बाद में पार्टी से निलंबित कर दिया गया था और भाजपा ने सिंह के खिलाफ मंगलवार को भी यही कार्रवाई की है। सिंह को पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए ओवैसी ने आरोप लगाया, “ अपनी पार्टी के सदस्यों को ऐसी में बात करने की अनुमति देकर मुसलमानों का हमेशा मानसिक और भावनात्मक रूप से उत्पीड़न सुनिश्चित करना भाजपा की आधिकारिक नीति है।” उन्होंने कहा, “ हम पैगंबर मोहम्मद के बारे में ऐसी को सड़क छाप कहते हैं।” हैदराबाद से सांसद ने कहा, “यह भाजपा की जानबूझकर की गई कोशिश है और उन्होंने अपने विधायक को इस में बोलने की इजाजत दी। नुपुर शर्मा ने जो किया उससे उन्होंने कोई सबक नहीं सीखा है। यह नुपुर शर्मा की कही बातों का आगे की कड़ी है।”

उन्होंने यह भी पूछा कि शर्मा को उनकी टिप्पणी के लिए अबतक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया? ओवैसी ने आरोप लगाया कि यह मुस्लिमों और इस्लाम के खिलाफ नफरत की आगे की कड़ी है और यह सुनिश्चित करना है कि अल्पसंख्यक हमेशा खतरे में रहें और उन्हें असुरक्षित महसूस कराया जाए। एआईएमआईएम प्रमुख ने सवाल किया कि भाजपा हैदराबाद और तेलंगाना व्याप्त शांति से खुश क्यों नहीं है? उन्होंने कहा, “ आप अपनी सियासी जंग लड़िए... आप लोगों के बीच मतभेद पैदा नहीं कर सकते। अगर आपमें हिम्मत है तो केसीआर (चंद्रशेखर राव) और ओवैसी से राजनीतिक तौर पर मुकाबला कीजिए।”

ओवैसी ने कहा कि सोमवार रात साढ़े 12 बजे से लेकर मंगलवार सुबह साढ़े छह बजे तक एआईएमआईएम का हर कार्यकर्ता शहर की सड़कों पर था और उन लोगों को शांत कराने की कोशिश कर रहा था जो भाजपा नेता की टिप्पणी की वजह से क्षुब्ध हुए और सुनिश्चित किया कि कोई भी अप्रिय घटना नहीं हो। उन्होंने भाजपा विधायक पर वक्त पर कार्रवाई करने के लिए टीआरएस सरकार का शुक्रियाअदा किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़