ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में पहले भी था और अब जरूरत के हिसाब से इसे बढ़ाया गया है: स्वास्थ्य मंत्री

ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में पहले भी था और अब जरूरत के हिसाब से इसे बढ़ाया गया है: स्वास्थ्य मंत्री

स्थिति ऐसी हो गई थी कि कई अस्पतालों ने तो दावा किया कि उनके पास ऑक्सीजन ही नहीं है। राज्य सरकारें भी यह कहती रही कि पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं है। इन सबके बीच स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बड़ा बयान दिया है।

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले के बीच ऑक्सीजन की कमी की खबरें लगातार आ रही है। कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों को सबसे ज्यादा सांस लेने में ही तकलीफ हो रही है जिसके चलते ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई है। पिछले दिनों हमने देखा कि किस तरह से ऑक्सीजन को लेकर मारामारी सी मची। स्थिति ऐसी हो गई थी कि कई अस्पतालों ने तो दावा किया कि उनके पास ऑक्सीजन ही नहीं है। राज्य सरकारें भी यह कहती रही कि पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं है। इन सबके बीच स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बड़ा बयान दिया है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में पहले भी था और अब तो इसे और भी बढ़ाया गया है। लोगों को ऑक्सीजन के बारे में सही ज्ञान आवश्यक है। जिसे जरूरत है उसे ऑक्सीजन मिलनी चाहिए। अपने आप अस्पताल न भागें। डॉक्टर कहते हैं कि अस्पताल में रहने की जरूरत है तो जरूर जाएं।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में कुछ ही दिनों में 400 से ज्यादा बेड शुरू होंगे। ये ऑक्सीजन सपोर्टेड होंगे और अधिकांश पर वेंटिलेटर की सुविधा होगी। मैंने इनका खुद निरीक्षण किया है। मुझे आश्वासन मिला है कि हफ्ते के अंदर ये बेड शुरू हो जाएंगे





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।