पाक ने राजौरी में नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया, एक जवान शहीद

pak-violates-ceasefire-at-rajouri-a-young-martyr
अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने उत्तरी कश्मीर के तंगहार क्षेत्र में नियंत्रण रेखा पर अग्रिम क्षेत्रों तथा गांवों पर भी गोलीबारी की। तीन दिन में यह उल्लंघनविराम उल्लंघन का तीसरा मामला है।

जम्मू। पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए गोलीबारी की और गोले दागे। अधिकारियों ने कहा कि भारतीय जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया जिससे पाकिस्तान सेना की चौकियों को भारी नुकसान पहुंचा और उसके सैनिक हताहत हुए। उन्होंने कहा कि इसी गोलीबारी में नायक कृष्ण लाल (34) शहीद हो गये। सेना के जनसंपर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा, ‘‘पाकिस्तानी सेना ने आज राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर बिना उकसावे के संघर्षविराम का उल्लंघन किया।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय सेना ने इसका करारा जवाब दिया।

अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे जवानों ने पाकिस्तानी सेना की चौकियों को भारी नुकसान पहुंचाया और पाकिस्तानी सैनिक हताहत हुए।’’ आनंद ने लाल को ‘‘बहादुर, बहुत उत्साहित और ईमानदार’’ सैनिक बताया।  पीआरओ ने कहा कि राष्ट्र उनके बलिदान और कर्तव्यनिष्ठा के प्रति हमेशा आभारी रहेगा। उन्होंने कहा कि लाल अखनूर जिले के घगरियाल गांव के रहने वाले थे। उनके परिवार में पत्नी, शशि देवी हैं।

इसे भी पढ़ें: तीन तलाक बिल का विपक्ष ने किया विरोध, कहा- यह मुस्लिम परिवारों को तोड़ने वाला कदम

अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने उत्तरी कश्मीर के तंगहार क्षेत्र में नियंत्रण रेखा पर अग्रिम क्षेत्रों तथा गांवों पर भी गोलीबारी की। तीन दिन में यह उल्लंघनविराम उल्लंघन का तीसरा मामला है। सोमवार को, पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ जिले के मनकोटे तथा शाहपुर सेक्टरों में नियंत्रण रेखा पर बिना उकसावे के गोलीबारी की थी। पुंछ जिले के शाहपुर सेक्टर में रविवार को ऩियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की तरफ से की गई गोलीबारी में दस दिन के बच्चे की मौत हो गई थी जबकि दो लोग घायल हुए थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़