राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर बोले नायडू, महामारी ने शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होने की जरूरत फिर बताई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 29, 2020   10:59
राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर बोले नायडू,  महामारी ने शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होने की जरूरत फिर बताई

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने ट्वीट किया कि सभी खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल दिवस पर बधाई। इस महामारी ने सामान्य खेल गतिविधियों को बाधित किया है।

नयी दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर सभी खिलाड़ियों को बधाई देते हुए कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होने की जरूरत फिर बताई है। उन्होंने हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को भी श्रृद्धांजलि दी जिनके जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है। नायडू ने ट्वीट किया ,‘‘ सभी खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल दिवस पर बधाई। इस महामारी ने सामान्य खेल गतिविधियों को बाधित किया है।’’ 

इसे भी पढ़ें: संसदीय समितियों के अध्यक्षों-सदस्यों से बोले उपराष्ट्रपति नायडू, सूचनाएं मीडिया को लीक करने से बचें 

उन्होंने यह भी कहा कि महामारी के कारण समझ में आया है कि इससे लड़ने के लिये शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होना कितना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस मौके पर फिट इंडिया को जन आंदोलन बनाने का प्रण लीजिये और शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य के लिये खेलों से लेकर योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाइये।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।