मोदी को रोकने के लिए गठबंधन कर रहे सपा-बसपा और कांग्रेस जैसे दल: दिनेश शर्मा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 29, 2018   19:40
मोदी को रोकने के लिए गठबंधन कर रहे सपा-बसपा और कांग्रेस जैसे दल: दिनेश शर्मा

शर्मा भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा द्वारा स्थानीय विश्वेश्वरैया सभागार में आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने गुरूवार को कहा कि दिन-रात मेहनत कर देश को प्रगति के पथ पर लगातार आगे ले जाते हुए और गांव, गरीब एवं समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए काम कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रोकने के लिए सपा-बसपा एवं कांग्रेस जैसे दल गठबंधन कर रहे हैं।

शर्मा भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा द्वारा स्थानीय विश्वेश्वरैया सभागार में आयोजित सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे। उप-मुख्यमंत्री शर्मा ने इस मौके पर कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की मेहनत एवं ईमानदारी की प्रशंसा सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी होती है। 

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने हमेशा मंदिर निर्माण के रास्ते में बाधा उत्पन्न करने का काम किया है: केशव मौर्य

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना, जनधन योजना, मुद्रा योजना और आयुष्मान भारत जैसी तमाम योजनाएं लागू कर मोदी ने समाज के उस वर्ग को लाभ पहुंचाया है जिसे कांग्रेस, सपा, बसपा जैसी सरकारों ने अपनी-अपनी सत्ता के दौरान मूलभूत सुविधाओं से भी वंचित रखा। 

यह भी पढ़ें: केशव मौर्य का शिवपाल को ऑफर, कहा- भाजपा में आएं और सम्मान पाएं

शर्मा ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस जैसे दल लगातार कह रहें है कि मोदी सरकार ने कुछ नहीं किया। अगर मोदी सरकार ने कुछ नहीं किया तो फिर इन दलों को गठबंधन की आवश्यकता क्यों पड़ रही है? समाज के सभी वर्गों के लोग यह जान चुके हैं कि परिवारवाद की राजनीति में फंसे सपा-बसपा और कांग्रेस जैसे दल कभी देश का भला नहीं करेंगे और न ही देश के नागरिकों का भला करेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...