विश्व के लोग नेहरू की सराहना करते हैं, भारत के प्रधानमंत्री उनके योगदान को नहीं स्वीकारते: कांग्रेस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 23, 2019   15:46
विश्व के लोग नेहरू की सराहना करते हैं, भारत के प्रधानमंत्री उनके योगदान को नहीं स्वीकारते: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘‘मोदीजी के लिए ये बिल्कुल अप्रत्याशित था। नेहरू जी और गांधी जी की उपलब्धियों का जिक्र होते समय उनके हाव-भाव देखने लायक थे।’’

नयी दिल्ली। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में बहुमत पक्ष के नेता स्टेनी होएर की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के नजरिए का उल्लेख करने की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि बेहतर होता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी नेहरू के योगदान को स्वीकारते और अमेरिकी कांग्रेस के सदस्य की बात का समर्थन करते। पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ पंडित नेहरू आजादी की लड़ाई की पहली पंक्ति के नेता थे और कई वर्षों तक जेल में रहे। वह भारत के प्रधानमंत्री के प्रथम प्रधानमंत्री और देश के निर्माता थे। यह बहुत दुख की बात है कि विश्व के लोग सराहना करते हैं, लेकिन भारत के प्रधानमंत्री प्रशंसा नहीं करते और भाजपा अध्यक्ष उनकी आलोचना करते हैं। इससे भारत की छवि अच्छी नहीं बनती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ बेहतर होता कि प्रधानमंत्री मोदी पंडित नेहरू के योगदान को स्वीकार करते और अमेरिकी कांग्रेस सदस्य की बात का समर्थन करते।’’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने सोमवार को कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि प्रधानमंत्री मोदी को नेहरू के योगदान की याद अमेरिका में दिलाई गई।

इसे भी पढ़ें: मोदी को नेहरू के योगदान की याद अमेरिका में दिलाए जाने से खुशी हुई: रमेश

रमेश ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मुझे उस समय की याद आ रही है जब कुछ साल पहले लालकृष्ण आडवाणी ने न्यूयॉर्क में दिए अपने भाषण में नेहरू की सराहना की थी। वाजपेयी द्वारा नेहरू को याद करना भी शानदार था। जाने कहां गए वो दिन...।’’उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खुशी हुई कि अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के बहुमत पक्ष के नेता द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को नेहरू के योगदान की याद अमेरिका में दिलाई गई।’’कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘‘मोदीजी के लिए ये बिल्कुल अप्रत्याशित था। नेहरू जी और गांधी जी की उपलब्धियों का जिक्र होते समय उनके हाव-भाव देखने लायक थे।’’गौरतलब है कि होएर ने रविवार को ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में कहा कि अमेरिका की तरह भारत ने अपनी प्राचीन परंपराओं को गांधी के सबक और नेहरू के नजरिए के माध्यम से खुद को एक सुरक्षित लोकतंत्र बनाए रखा है। उन्होंने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां बहुलतावाद और प्रत्येक भारतीय के मानवाधिकार सुरक्षित हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।